गुजरात क्वीन में मिला था जिस युवती का शव, उसके बारे में सामने आई बड़ी जानकारी

(Photo Credit : etvbharat.com)

जाँच के दौरान जीआरपी की टीम के हाथ लगी लड़की की डायरी, सामने आई आत्महत्या की वजह

दिवाली की सुबह वलसाड रेलवे स्टेशन पर ट्रेन की सफाई के दौरान एक सफाईकर्मी को गुजरात क्वीन ट्रेन में एक युवती का शव मिला। चौकीदार ने तुरंत वलसाड के स्टेशन मास्टर और जीआरपी टीम को घटना की सूचना दी। इसकी सूचना मिलते ही वलसाड जीआरपी की टीम तुरंत मौके पर पहुंची और मामले की जाँच शुरू कर दी। भले ही युवती के पास उसका टिकट या पास नहीं मिला लेकिन शव के पास से मिले फोन से युवती के परिवार से संपर्क किया गया।
घटना की छानबीन करते हुए जीआरपी टीम को नवसारी की इस मृतक लड़की के कमरे से एक डायरी मिली। इस डायरी में युवती ने आपबीती लिखी थी। धनतेरस के दिन युवती एक एनजीओ में फेलोशिप कर अपने कमरे में लौट रही थी तभी एक रिक्शा में सवार 2 लोगों ने उसका अपहरण कर लिया। डायरी में आगे लिखा था कि उन दोनों ने उसे वडोदरा वैक्सीन कॉलेज ग्राउंड में एक खाली जगह पर ले जाकर रेप किया गया। इस जानकारी के बाद मामले में जांच बढ़ा दी गई है।
घटना के दौरान मौके से गुजर रही बस के चालक ने युवती को घर पहुंचाने में मदद की। लोगों को गैर सरकारी संगठनों के माध्यम से जीने के लिए प्रेरित करने वाली लड़की के साथ ही दुष्कर्म होने कारण उसकी हिम्मत टूट गई। लड़की अपने परिवार को मामले के बारे में नहीं बता सकी लेकिन इस अघात से संभव है कि उसने आत्महत्या कर ली हो।
मृतक लड़की के बारे में बताये तो मृतक नवसारी की एक 18 साल की लड़की थी जो वडोदरा में फर्स्ट ईयर कॉलेज कर रही थी और एक सामाजिक संस्था में फेलोशिप भी कर रही थी। वह कुछ दिन पहले वडोदरा से नवसारी अपने घर पर रहने आई थी। उसने अपनी मां को बताया कि वह संस्थान में काम करने के लिए मरोली में एक शिक्षक से मिलने के लिए घर से निकली थी। एक दिन वहां रहने के बाद उसे वापस जाने की बात कही और अगले दिन गुजरात क्वीन ट्रेन के कोच नंबर डी-12 में उसने आत्महत्या कर लिया। देर रात करीब साढ़े बारह बजे गुजरात क्वीन ट्रेन वलसाड रेलवे स्टेशन पर पहुंची और वहां पूरी ट्रेन खाली हो गई और उसके बाद ट्रेन की सफाई करने गए सफाईकर्मियों ने शव को देखा और तुरंत पुलिस को सूचना दी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें