भारत बंद का दिल्ली में नहीं हुआ कोई असर

भारत बंद के आह्वान के बाद शुक्रवार 26 मार्च, 2021 को दिल्ली के कश्मीरी गेट क्षेत्र का दृश्य। (Photo IANS : Wasim Sarvar)

सुबह से ही मेट्रो स्टेशनों और बस स्टैंड पर लोग अपने ऑफिस जाने के लिए रोजमर्रा की तरह पहुंचे। इसके अलावा दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट फ्लाईवे (डीएनडी) पर भी यातायात सामान्य रहा।

नई दिल्ली, 26 मार्च (आईएएनएस)| राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को भारत बंद का कोई असर नहीं पड़ा है। यहां सुबह से ही मेट्रो स्टेशनों और बस स्टैंड पर लोग अपने ऑफिस जाने के लिए रोजमर्रा की तरह पहुंचे। इसके अलावा दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट फ्लाईवे (डीएनडी) पर भी यातायात सामान्य रहा। दफ्तर आने-जाने के सामान्य समय के दौरान मेट्रो स्टेशनों पर आम दिनों की तरह ही भीड़ रही। कम्यूटर इंजीनियर विनय कुमार ने कहा, "हमें भारत बंद के बारे में कोई जानकारी नहीं थी और ऑफिस में भी कोई छुट्टी नहीं थी इसलिए मैं जा रहा हूं।"
बिना किसी बाधा के चला वाहन-व्यवहार
रिक्शा, बस और निजी वाहन भी बिना किसी बाधा के दक्षिण दिल्ली में आते-जाते दिखे। रोजाना अपनी गाड़ी से ऑफिस जाने वाले रफीक अहमद ने कहा, "मुझे किसी ने नहीं रोका और ट्रैफिक भी सामान्य है।"
संयुक्त किसान मोर्चा ने दावा किया था बंद रहेंगी दुकानें और मॉल
किसान आंदोलन के 4 महीने पूरे होने के मौके पर संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने गुरुवार को कहा कि उसके 'भारत बंद' आह्वान के चलते शुक्रवार को सभी दुकानें, मॉल, बाजार और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। 12 घंटे का बंद सुबह 6 बजे से 6 बजे तक चलेगा। हालांकि, इस दौरान एम्बुलेंस और अन्य आवश्यक सेवाओं पर असर नहीं पड़ने दिया जाएगा।
कई संगठनों ने दिय है बंद को समर्थन
एसकेएम द्वारा किए गए इस भारत बंद को विभिन्न किसान संगठन, ट्रेड यूनियन, छात्र समूह, वकील संघ, राजनीतिक दल और राज्य सरकारों के कई प्रतिनिधि समर्थन दे रहे हैं। बता दें कि पंजाब, हरियाणा और पश्चिम उत्तर प्रदेश के हजारों किसान दिल्ली की सिंघु, टिकरी और गाजीपुर सीमाओं पर पिछले साल 26 नवंबर से कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग लेकर डेरा डाले हुए हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें