आम आदमी को एक और झटका, अब से इस टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर कंपनी के रिचार्ज के लिए चुकाने होने अधिक पैसे

(Photo : IANS)

टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर भारती एयरटेल ने प्रीपेड प्लान्स पर टैरिफ दरों में 25 फीसदी की बढ़ोतरी की

टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर भारती एयरटेल ने प्रीपेड प्लान्स पर टैरिफ दरों में 25 फीसदी की बढ़ोतरी की है। एयरटेल की नई टैरिफ दरें 26 नवंबर से लागू होंगी। ऐसे में एयरटेल के बाद अब बाकी टेलीकॉम कंपनियां भी टैरिफ बढ़ा सकती हैं।
जानकारी के अनुसार कंपनी ने कहा कि उसका 73 रुपये वाला बेस प्लान अब 99 रुपये हो गया है। इसमें 50 फीसदी ज्यादा टॉकटाइम मिलेगा। इसी तरह 149 रुपये वाला प्लान अब 179 रुपये में मिलेगा। इसमें 28 दिनों की वैधता, असीमित कॉलिंग, प्रति दिन 100 एसएमएस और कुल 2 जीबी डेटा के साथ आता है। इसी तरह 219 रुपये वाला प्लान अब 265 रुपये का है। इसमें 28 दिनों की वैलिडिटी के साथ रोजाना 100 एसएमएस और 1 जीबी डेटा मिलेगा।
गौरतलब है कि टेरिफ की कीमतों में वृद्धि के बाद, एयरटेल के प्रीपेड प्लान रिलायंस जियो की तुलना में 30 से 50 प्रतिशत अधिक महंगे हो गए हैं। जियो का 2 जीबी और 28 दिनों की वैलिडिटी वाला प्लान 129 रुपये का है। जबकि एयरटेल के प्लान की कीमत 179 रुपये है। इसी तरह जियो के 1।5 जीबी वाले 84 दिनों के डेली प्लान की कीमत 555 रुपये है। जबकि एयरटेल के ग्राहकों को इसके लिए 719 रुपये देने होंगे।
एयरटेल ने एक बयान में कहा कि प्रति उपयोगकर्ता औसत राजस्व (एआरपीयू) 200 रुपये होना चाहिए और इसे फिर से बढ़ाकर 300 रुपये किया जाना चाहिए ताकि कंपनियों को निवेश पूंजी पर उचित रिटर्न मिल सके। कंपनी का तर्क है कि स्वस्थ बिजनेस मॉडल के लिए यह जरूरी है। कंपनी ने यह भी कहा कि एआरपीयू के इस स्तर पर आने से नेटवर्क और स्पेक्ट्रम के लिए जरूरी निवेश मिलेगा। साथ ही यह कंपनी को देश में 5जी सेवाएं शुरू करने के लिए संसाधन मुहैया कराएगा। इसके लिए कंपनी ने नवंबर में टैरिफ बढ़ाने का फैसला किया है।
उम्मीद है कि एयरटेल के बाद अन्य कंपनियां भी टैरिफ दरों में बदलाव कर सकती हैं। खासकर भारी कर्ज से जूझ रहे वोडाफोन-आईडिया अपनी प्रीपेड दरें बढ़ा सकते हैं। हालांकि, कंपनियों की टैरिफ बढ़ोतरी एक बार फिर सिर्फ सेवाओं की गुणवत्ता पर केंद्रित हो सकती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें