अहमदाबाद : नवरात्रि में बारिश डाल सकती है खलल, जानें कहां है भारी बारिश का अनुमान

प्रतिकारात्मक तस्वीर

दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र के कुछ जिलों में बारिश का अनुमान है

नवरात्रि महोत्सव में अब गिनती के दिन शेष हैं, ऐसे में खेलैया व आयोजक बारिश को लेकर चिंतित हैं। ऐसे में बारिश को लेकर मौसम विभाग का पूर्वानुमान सामने आ गया है। राज्य में भारी बारिश की संभावना न के बराबर है। राज्य के विभिन्न शहरों में छिटपुट बारिश होगी। दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र के कुछ जिलों में बारिश का अनुमान है। अहमदाबाद गांधीनगर में बादल छाए रहने की संभावना है।
मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र में अच्छी बारिश होगी, जबकि मध्य और उत्तर गुजरात में सामान्य बारिश होने की संभावना है। गुजरात में अच्छी बारिश का अनुमान है। दक्षिण और सौराष्ट्र में बारिश होगी। साथ ही मछुआरों को समुद्र में न जाने की हिदायत दी गई है। मध्य और उत्तर गुजरात में सामान्य बारिश होगी।

बारिश के साथ तेज हवाएं भी चलने की संभावना


मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, राज्य में अगले पांच दिनों तक बारिश के हालात बने रहेंगे। आज भी कई जगहों पर बारिश का अनुमान है। दक्षिण गुजरात में भारी बारिश का अनुमान है। वलसाड, नवसारी, दमन, डांग, नर्मदा, भरूच में भारी बारिश का अनुमान है। बंगाल में कम दबाव के कारण बारिश की संभावना है। इस समय अहमदाबाद में गर्मी बढ़ गई है। शुक्रवार को अहमदाबाद में तापमान 38 डिग्री रिकार्ड किया गया। गांधीनगर-अहमदाबाद में आज सामान्य बारिश की संभावना है। बारिश के साथ तेज हवाएं भी चलने की संभावना है।

राज्य में सीजन से 28 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है


अहमदाबाद में आज आंधी चलने का अनुमान है। गरज के साथ छिटपुट बारिश हो सकती है। सौराष्ट्र-कच्छ में केवल छिटपुट बारिश हो सकती है। फिलहाल बारिश की गतिविधियां कम हो गई हैं। सीजन में अब तक 776 मिमी बारिश हो चुकी है। जबकि राज्य में सीजन से 28 फीसदी ज्यादा बारिश हुई है। राज्य में अभी सामान्य बारिश होगी। तटीय इलाकों में 5 दिन बारिश होगी। अहमदाबाद में सामान्य बारिश होगी। वलसाड, नवसारी, डांग, तापी, अहवा सहित क्षेत्रों में सामान्य वर्षा होने की संभावना है। फिलहाल भारी बारिश की संभावना न के बराबर है। 5 दिनों के बाद बारिश का सिस्टम फिर से सक्रिय हो जाएगा और बारिश होगी। फिलहाल राज्य के कुछ इलाकों को गर्मी का सामना करना पड़ेगा।

एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की एक-एक टीम भी तैनात की गई है


उधर, सरदार सरोवर नर्मदा बांध का स्तर लगातार नौवें दिन 138.62 मीटर पर है। अपरिवर से 1 लाख 80 हजार क्यूसेक पानी मिलता है। इसलिए 10 हजार क्यूसेक की जगह 45 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। नर्मदा नदी दो किनारों पर बह रही है। जिसे लेकर वडोदरा, भरूच और नर्मदा के 26 गांवों को अलर्ट कर दिया गया है और अब सिस्टम भी अलर्ट पर है। फिलहाल एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की एक-एक टीम भी तैनात की गई है। नर्मदा बांध के ओवरफ्लो होने से गुजरात का जल संकट भी टल गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें