अहमदाबाद : भेजाबाज इस तरह से धोखाधड़ी करते थे कि पुलिस भी चौंक उठी, जानें क्या है मामला

पुलिस गिरफ्त में आरोपी

शार्ट कट से पैसा कमाने के लिए भेजाबाज नई-नई तरकीब अपना रहे हैं

शार्ट कट से पैसा कमाने के लिए भेजाबाज नई-नई कीमिया (तरकीब) अपना रहे हैं। कभी किसी ने विचर न किया हो ऐसे मॉडस अपरेन्डी से भेजाबाज धोखाधड़ी करते थे। ऐसे ही एक भेजेबाज को गांधीनगर रखियाल पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने खाना पकाने के बर्तन किराए पर लेते थे और उसे तुरंत बाहर ही बाहर बेच देते थे। 
गांधीनगर की रखियाल पुलिस ने हिम्मतनगर निवासी कनैयालाल मेहता नाम के एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। जब पुलिस वाहन की जांच कर रही थी तब एक इको कार चालक को रोका गया। पुलिस ने उससे पूछताछ की क्योंकि गाड़ी में खाना पकाने के बर्तन थे। चालक ने तब कहा कि उसके साथ रहने वाले व्यक्ति ने कार किराए पर ली थी। तो पुलिस ने उससे बर्तनों के बारे में भी पूछताछ की। लेकिन उन्होंने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया और पुलिस ने उलटी जांच शुरू कर दी।
पता चला कि आरोपी कनैयालाल मेहता अलग-अलग गांवों में रहने के लिए जाता था और वहां के रसोइयों से संपर्क कर उनसे खाना बनाने के बर्तन किराए पर ले रहा था। बाद में वह इन बर्तनों को बेचकर पैसा कमाता था। पुलिस ने आरोपियों के पास से 38 छोटे-बड़े बर्तन बरामद किए हैं। गिरफ्तार आरोपियों ने पिछले तीन महीने में अहमदाबाद, जेतपुर, तलोद, छला, ताजपुर और लीलाछा में इसी तरह की धोखाधड़ी की है। वह पहले भी साबरकांठा में अलग-अलग अपराधों में पकड़ा जा चुका है। पुलिस ने हाल ही में आरोपी से पूछताछ शुरू की है। हालांकि, जांच के दौरान अन्य अपराधों के सुलझने की संभावना है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें