एक अनोखी दौड़ स्पर्धा : बहुओं को खुले में शौच जाने से रोकने के लिए हाथ में लोटा लेकर दौड़ी सभी सासुमाँ

(Photo Credit : gujaratsamachar.com)

बहुओं को खुले में शौच जाने से रोकने के लिए गाँव की महिलाओं ने किया अनोखी दौड़ स्पर्धा का आयोजन

मध्यप्रदेश के भोपाल के पासा आए एक गाँव में एक अनोखी दौड़ स्पर्धा आयोजित हुई थी। इस दौड़ स्पर्धा में गाँव की सभी बुजुर्ग महिलाओं ने अपनी बहुओं को एक खास संदेश देने के लिए हाथ में लोटा लेकर एक खास दौड़ स्पर्धा का आयोजन किया था। दरअसल घरों में शौचालय होने के बाद भी गाँव की बहू खुले में शौच के लिए जाती थी। ऐसे में उनकी सासों ने उन्हें इस बारे में समझाने के लिए यह अनोखी पहल की थी। 
इस अनोखी दौड़ के माध्यम से सभी महिलाओं ने अपनी बहुओं को समझाने के लिए एक दूसरे के साथ स्पर्धा की थी। स्पर्धा में हिस्सा लेने वाली सभी महिलाएं 50 से 60 साल की थी। 50 मीटर की दूरी करने के बाद विनिंग पॉइंट पर सभी महिलाओं ने अपने लोटे फेंक दिये थे और अपनी बहुओं को खुले में शौच ना करने की सलाह दी थी। सभी महिलाओं का कहना था की उनकी बहुएँ घर में शौचालय होने के बाद भी खेतों और जंगलों में जाते थे। 
महिलाओं ने अपनी बहू को समझाया की खुले में शौच करने से उनकी इज्जत तो खराब होती है साथ में कई तरह की बीमारियाँ भी होती है। मंगलवार को हुई इस अनोखी दौड़ स्पर्धा में राधा प्रजापति पहले स्थान पर आए थे, जबकि मंजूबेन दूसरे और अर्पिता प्रजापति तीसरे स्थान पर रहे थे। जिला पंचायत अधिकारी के अनुसार यह स्पर्धा सास और बहू के बीच के संकोच को दूर करने के लिए यह दौड़ स्पर्धा आयोजित की गई थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें