22 थप्पड खाने वाला कैब ड्राइवर यह कहते हुए राजनीति में आया कि पुरुषों पर होने वाले अत्याचार दूर करूंगा!

(Photo Credit : vtvgujarati.com)

पुरुषों को इंसाफ दिलाने के लिए राजनीति में आया हूँ - सआदत अली

आपको लखनऊ में 30 जुलाई की रात वाला थप्पड़ कांड तो याद ही होगा। प्रियदर्शिनी यादव के हाथों 22 थप्पड़ खाने वाला कैब चालक सआदत अली एक बार और चर्चा में आ गया है। ये शख्स अब राजनीति में आने की वजह से चर्चा में आये हैं। दरअसल सआदत अली यूपी चुनाव से पहले शिवपाल यादव की प्रोग्रेसिव सोशलिस्ट पार्टी का हिस्सा बने है। राजनीति में आने के पीछे के उद्देश्य के बारे में उन्होंने कहा है कि वह पुरुषों के लिए लड़ाई लड़ेगे।
आपको बता दें कि कैब ड्राइवर सआदत अली ने राजनीति में कदम रखते हुए कहा, "मेरे साथ जो हुआ उसे मैं कभी नहीं भूल सकता।" अली का कहना है कि वह महिलाओं के खिलाफ अत्याचार के शिकार अधिक से अधिक पुरुषों के लिए लड़ने और उनकी मदद करने के लिए राजनीति में आए है। साथ ही उन्होंने कहा “इसके अलावा कई मामले ऐसे भी हैं जिनमें पुरुषों की कोई नहीं सुनता। अब मैं राजनीति में शामिल होकर और अन्य पुरुषों की मदद करके अपना न्याय प्राप्त करूंगा।”
घटना की बात करें तो 30 जुलाई की रात 10 बजे लखनऊ के कृष्णानगर क्षेत्र के बारबीरवा चौक के पास एक युवती प्रियदर्शिनी यादव ने बीच सड़क पर कैब चालक सआदत अली को टक्कर मार दी। इसके बाद युवती ने एक के बाद एक चालक को कई थप्पड़ जड़ दिए। लोगों की भारी भीड़ भी जम गई। वहां मौजूद लोगों ने मामले को शांत कराने की कोशिश की तो युवती का उनसे झगड़ा भी हो गया। घटना का वीडियो मीडिया पर भी वायरल हुआ था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें