क्रिकेट : एक और सीरीज हारी भारतीय टीम, दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में बांग्लादेश ने रोमांचक भिड़ंत में 5 रनों से हराया, जमाया सीरीज पर कब्जा

क्रिकेट : एक और सीरीज हारी भारतीय टीम, दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में बांग्लादेश ने रोमांचक भिड़ंत में 5 रनों से हराया, जमाया सीरीज पर कब्जा

दूसरे एकदिवसीय मैच में भी भारत अपने स्तर के प्रदर्शन तक नहीं पहुंचा, 70 रनों के भीतर 6 विकेट गिराने के बाद भी बांग्लादेश को जल्दी नहीं समेट पाए भारतीय गेंदबाज

भारतीय क्रिकेट टीम का लचर प्रदर्शन आज भी जारी रहा। लंबे समय से अपने स्तर की क्रिकेट से कोसों दूर भारतीय टीम बांग्लादेश के सामने एक बार फिर कमजोर साबित हुई। बांग्लादेश ने भारत को दूसरे वनडे में एक रोमांचक मुकाबले में 5 रन से हराकर 3 मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है। बांग्लादेश की ओर से रखे गए 272 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 9 विकेट पर 266 रन ही बना सकी। कप्तान रोहित शर्मा ने नाबाद 51 रन बनाए। भारतीय टीम की यह बांग्लादेश में दूसरी सीरीज हार है। टीम इंडिया को सात साल पहले अपने आखिरी दौरे पर भी बांग्लादेश के हाथों सीरीज गंवानी पड़ी थी।

भारतीय गेंदबाजों की अच्छी शुरुआत पर फिर वहीं ढाक के तीन पात


मैच में पहली पारी की बात करें तो टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने आई बांग्लादेश की टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। भारतीय गेंदबाजों ने ऐसा प्रदर्शन करना शुरू किया जिस्की कल्पना लंबे समय से उनसे की जा रही थी। गेंदबाजों ने महज 69 पर 6 बांग्लादेशी बल्लेबाजों की घर वापसी करा दी और ऐसा करने के बाद ऐसा लग रहा था कि वो बांग्लादेशी टीम को 100 बहुत हुआ तो 120-130 तक समेट देंगे! पर भारतीय टीम के साथ अक्सर ऐसा होता है कि हर सीरीज में सामने वाली टीम का कोई न कोई खिलाड़ी ऐसा ऐसा होता है जिसके सामने भारतीय गेंदबाजों की स्थिति ऐसी रहती है जैसे कोई क्लब का खिलाडी स्कूल ही गेंदबाजों को खेलता हूं। इस सीरीज में बांग्लादेश के लिए यह काम कर रहे हैं मेहंदी हसन!

एक बार फिर विलेन बने मेहंदी हसन


पहले मैच में भी भारत के लिए विलन बनने वाले मेहंदी हसन इस मैच में भी उसी भूमिका में नजर आये। 100 रन के भीतर छह विकेट गिरा देने के बाद जहां भारतीय टीम को लग रहा था कि जल्दी भारत बांग्लादेश की पारी को सिमट जाएगी, वहीं मेहंदी हसन कुछ अलग इरादे से आये थे और उन्होंने शानदार शतक लगाते हुए बांग्लादेशी पारी को न सिर्फ सौ, डेढ़ सौ, दो सौ नहीं बल्कि ढ़ाई सौ के पार पहुंचा दिया। आलम यह है कि इसके बाद भारतीय गेंदबाज सिर्फ एक और विकेट ले सके। मेहदी हसन मिराज ने 83 गेंदों में 100 रन की नाबाद पारी खेली। इसके अलावा महमुदुल्लाह ने 77 रन बनाए। भारत की ओर से सुंदर ने 3 और सिराज-उमरान मालिक ने दो-दो विकेट लिए।

बल्लेबाजों की फिर वहीं कहानी


वहीं लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की हालत वैसे ही थी जिसे पिछले कुछ समय से रही है। भारतीय ओपनर की भूमिका में आये कोहली ने भी उसी परंपरा को बरकरार रखा और जल्द ही चलते बने। धवन ने भी इसी राह को चुना और जल्दी ही पवेलियन लौट गए। इसके बाद श्रेयस अय्यर ने 82 रन और अक्षर पटेल ने 56 रन की पारी खेली। कोहली पारी शुरू करने इसलिए आये क्योंकि इस मैच की शुरुआत में रोहित शर्मा चोटिल हो गए थे। उनके बाएं अंगूठे में फील्डिंग के दौरान गंभीर चोट लगी थी। इसके बाद रोहित को अस्पताल भी ले जाया गया था।

अय्यर-अक्षर के बाद रोहित ने चोट साथ की खूब कोशिश पर…!


कप्तान रोहित शर्मा चोट के बावजूद 7 विकेट गिरने के बाद बल्लेबाजी के लिए उतरे लेकिन नाबाद 51 रन की पारी खेलकर भी वह टीम इंडिया को जीत नहीं दिला सके। बांग्लादेश की ओर से इबादत हुसैन ने तीन विकेट लिए। वहीं, मेहदी हसन मिराज और शाकिब अल हसन को दो-दो विकेट मिले।

Tags: Cricket