ब्रिटिश : प्रधानमंत्री ऋषि सनक ने दिया भारतीय युवा पेशेवरों को खास तोहफा, ये लाभ पाने वाला भारत पहला देश

ब्रिटिश : प्रधानमंत्री ऋषि सनक ने दिया भारतीय युवा पेशेवरों को खास तोहफा, ये लाभ पाने वाला भारत पहला देश

युवा पेशेवरों को हर साल यूके में काम करने के लिए मिलेंगे 3,000 वीजा

ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सनक ने भारत के युवा पेशेवरों को हर साल यूके में काम करने के लिए 3,000 वीजा के लिए हरी बत्ती दी है। ब्रिटिश सरकार ने कहा कि भारत इस तरह की योजना से लाभान्वित होने वाला पहला देश है। ब्रिटेन के प्रधान मंत्री कार्यालय ने कहा कि 18-30 आयु वर्ग के शिक्षित भारतीय नागरिकों को 3,000 वीजा और दो साल तक के काम की पेशकश करने वाली यूके-इंडिया यंग प्रोफेशनल्स योजना की आज पुष्टि की गई। ब्रिटिश सरकार द्वारा यह घोषणा G20 शिखर सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ब्रिटिश पीएम ऋषि सनक की बैठक के कुछ घंटों बाद हुई। पिछले महीने भारतीय मूल के पहले ब्रिटिश पीएम बनने के बाद यह उनकी पहली यात्रा थी।

सालाना 3,000 वीजा


आपको बता दें कि नई यूके-इंडिया यंग प्रोफेशनल्स स्कीम के तहत यूके 18-30 आयु वर्ग के डिग्री-शिक्षित भारतीय नागरिकों को यूके में रहने और दो साल तक काम करने के लिए यूके आने के लिए सालाना 3,000 वीजा प्रदान करेगा। डाउनिंग स्ट्रीट ने एक बयान में कहा, "भारत के साथ हमारे द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करने के लिए इस योजना का शुभारंभ एक महत्वपूर्ण क्षण है।" यह भारत-प्रशांत क्षेत्र के साथ-साथ दोनों देशों की अर्थव्यवस्थाओं को मजबूत करने में भी मदद करेगा।

अंतरराष्ट्रीय छात्रों में से लगभग एक चौथाई भारतीय


गौरतलब है कि यूके में सभी अंतरराष्ट्रीय छात्रों में से लगभग एक चौथाई भारत से हैं। ब्रिटेन इस समय भारत के साथ व्यापार समझौते पर बातचीत कर रहा है। अगर दोनों देश सहमत होते हैं, तो यह किसी यूरोपीय देश के साथ भारत का पहला ऐसा सौदा होगा। यूके पीएमओ ने कहा कि हमारे देशों के बीच गतिशीलता बढ़ाने के उद्देश्य से मई 2021 में यूके और भारत के बीच एक ऐतिहासिक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए थे।

Related Posts