अब तक इतिहास के सबसे तेज बॉल से खेला जायेगा फिफा विश्वकप-2022, जान लें क्या हैं इस गेंद की खासियतें

अब तक इतिहास के सबसे तेज बॉल से खेला जायेगा फिफा विश्वकप-2022, जान लें क्या हैं इस गेंद की खासियतें

कतार में इस साल नवंबर से फुटबॉल वर्ल्ड कप का प्रारंभ होने जा रहा है। इस वर्ल्ड कप के लिए इस्तेमाल होने वाले आधिकारिक बोल की भी घोषणा कर दी गई है। इस बोल का नाम है 'अल रिहला', जिसका अर्थ होता है एक यात्रा। एडिडास द्वारा दावा किया गया है कि यह गेंद अब तक के इतिहास की सबसे तेज गेंद होगी। 
एडिडास द्वारा वर्ल्ड कप के लिए यह खास गेंद बनाई गई है। कंपनी द्वारा यह दावा किया गया है की यह बोल हवा में से सबसे तेजी से निकलने वाला गेंद होगा। कंपनी के मुताबिक, इस बार की गेंद में तेजी और सटीकता है और यह अभी तक के इतिहास में हवा में सबसे तेजी से भागने वाली गेंद है। इस गेंद को पूरी तरह से पानी आधारित स्याही और गोंद से बनाया गया है, जो अपने आप में पहली बार है। एडिडास 1970 से ही वर्ल्ड कप के लिए गेंद बनती आ रही है और यह 14वीं गेंद है जिसका इस्तेमाल फुटबॉल के महाकुंभ में होगा। इसके अलावा यह पर्यावरण के अनुकूल भी होगा।
इस साल कतार में होने वाले वर्ल्ड कप में 32 टीम हिस्सा लेने वाली है। जिसमें से 27 देश तय हो गए है, जबकि पाँच टीमों के स्थान की पुष्टि अभी भी नहीं है। वर्ल्ड कप के ग्रुप स्टेज का ड्रॉ आज रात साढ़े नौ बजे होगा, जिसमें चार टीमों को आठ ग्रुप में शामिल किया जाएगा। 
बता देन की भारत में वायकॉम 18 के पास वर्ल्ड कप के राइट्स से, ऐसे में आप इस ड्रॉ को Voot Select एप पर लाइव देख सकेंगे। इसके अलावा फिफा की ओफिशियल यूट्यूब चेनल, वैबसाइट और अन्य सोशल मीडिया साइट्स पर भी इसे लाइव दिखाया जाएगा। 8 ग्रुपों में शामिल टीमों में प्रमुख 2 टीमें प्री-क्वार्टरफाइनल में जाएंगे। 
इसके बाद टॉप 8 टीम क्वार्टर फाइनल में जाएगी, जहां से चार टीम सेमीफाइनल में और अंत में 2 टीम फाइनल में खिताब के लिए भिड़ेगी। वर्ल्ड कप का ग्रुप स्टेज 21 नवंबर से शुरू होने जा रहा है, जिसके बाद 3 दिसंबर से 6 दिसंबर के बीच राउंड 16 खेला जाएगा। इन सभी मैचों के बाद 9 या 10 दिसंबर से क्वार्टरफाइनल, 13/14 दिसंबर से सेमीफाइनल और फाइनल 18 दिसंबर को खेला जाएगा। 

Tags: World