हवाई अड्डे पर तस्करी; 29 करोड़ की लक्जुरियस घड़ी, 28 करोड़ का हीरा जड़ित ब्रेसलेट और आईफोन!

हवाई अड्डे पर तस्करी; 29 करोड़ की लक्जुरियस घड़ी, 28 करोड़ का हीरा जड़ित ब्रेसलेट और आईफोन!

कस्टम विभाग ने दुबई से आए एक शख्स के पास से 7 महंगी घड़ियां बरामद, तस्करी में मिला माल लगभग 60 किलोग्राम सोना जब्त करने के बराबर

दिल्ली हवाई अड्डे पर सीमा शुल्क अधिकारियों ने सात लग्जरी घड़ियों की तस्करी के आरोप में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने बताया कि सात घड़ियों में से एक सोने की है और हीरे जड़ित है और इसकी कीमत 27.09 करोड़ रुपये है। उक्त बरामद चीजों को सीमा शुल्क अधिनियम, 1962 की धारा 110 के तहत जब्त कर लिया गया है। यात्री को सीमा शुल्क अधिनियम, 1962 की धारा 104 के तहत गिरफ्तारी किया गया है क्योंकि उसपर धारा 135 के तहत मामला दर्ज किया गया है को  गैर-जमानती अपराध है।

बैग से मिली कीमती चीजें


आपको बता दें कि इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा सीमा शुल्क आयुक्त जुबैर रियाज कामिली ने बताया कि मूल्य के मामले में यह वाणिज्यिक या विलासिता के सामानों की सबसे बड़ी जब्ती है। उन्होंने कहा कि कीमत की बात करें तो इस तस्करी के समानों की कीमत एक बार में 60 किलो सोना जब्त करने के बराबर है। वहीं एक अन्य अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को दुबई से दिल्ली पहुंचे आरोपी यात्री को सीमा शुल्क विभाग के अधिकारियों ने रोक लिया। आरोपी भारतीय नागरिक है। उसके बैग की तलाशी लेने पर कलाई की सात घड़ियां मिलीं।

आरोपी यात्री के चाचा का दुबई में है महंगी घड़ियों का शोरूम


जानकारी के अनुसार यात्री के बैग में से घड़ी के अलावा, 28.17 करोड़ रुपये मूल्य का एक हीरे से जड़ा सोने का ब्रेसलेट और एक आईफोन 14 प्रो 256GB बरामद किया गया है। घड़ियां जब्त कर आरोपी यात्री को गिरफ्तार कर लिया गया है। एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि आरोपी यात्री और उसके चाचा के पास दुबई में महंगी घड़ियों का शोरूम है। यूएई में अन्य जगहों पर भी इसकी शाखाएं हैं।

गुजरात के क्लाइंट को दिल्ली में देने वाला था सारा सामान


गौरतलब है कि ये तस्कर यात्री दिल्ली में एक हाई प्रोफाइल क्लाइंट को सामान देने जा रहा था। वह उनसे दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में मिलने वाले थे। इस मुवक्किल के बारे में कहा जा रहा है कि वह गुजरात का रहने वाला है। उसके पास से सामान से संबंधित किसी तरह के डॉक्यूमेंट नहीं मिले। इसलिए उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। पूछताछ के दौरान आरोपी ने मुवक्किल का नाम बताने से इनकार करते हुए कहा कि अगर मैंने ऐसा किया तो मुझे डर था कि मुझे मार दिया जाएगा।
Tags: Airport

Related Posts