दिल्ली : सरकारी स्कूल में कक्षा के दौरान छात्राओं पर गिरा पंखा, दो छात्राएं हुई घायल, बीजेपी ने कहा- खुली 'आप' के शिक्षा मॉडल की पोल

बीजेपी ने साधा केजरीवाल पर निशाना, मनोज तिवारी ने बताया शिक्षा मॉडल को बड़ा घोटाला

गुजरात में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने हैं। इसी की तैयारी के तहत हर पार्टी अपनी अपनी तैयारी को अंतिम रूप देने में लगी है। इसी क्रम में आम आदमी पार्टी भी मैदान में है। आप के प्रमुख अरविंद केजरीवाल गुजरात में आकर दिल्ली में उनकी सरकार द्वारा दी जा रही शिक्षा व्यवस्था की कसीदे पढ़ रहे हैं। इसी बीच दिल्ली में कुछ ऐसा हो गया कि अब आप के सदस्य जवाब ढूंढे नहीं पा रहे हैं। दरअसल दिल्ली के नांगलोई में सरकारी स्कूल की एक क्लास में छत में लगा पंखा सीधे छात्राओं पर गिर पड़ा। पंखा गिरने से दो छात्राएं घायल हो गई, जिसे नांगलोई के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस के अनुसार उन्हें नांगलोई के सोनिया अस्पताल से शनिवार को दो पीसीआर कॉल आए जिसमें नसरीन (14) और अंजलि (15) नामक दो लड़कियों के चिकित्सा-कानूनी मामलों (एमएलसी) के संबंध में जानकारी मिली। दोनों लड़कियां प्रेम नगर की रहने वाली हैं।


मनोज तिवारी ने साधा निशाना

इस मामले में जानकारी मिली है कि बताया जा रहा है कि छत में नमी थी तथा वह टपक रही थी, जिससे उसमें दरार आ गई और पंखा गिर गया। ये घटना उस समय हुई जब पढ़ाई चल रही थी। अब इस मौके को भला कोई कैसे छोड़ सकता था। अब इस घटना पर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि इस एक घटना से केजरीवाल सरकार के झूठ की पोल खुल गई है। फिलहाल स्कूल स्टाफ या दिल्ली सरकार ने इस घटना पर अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है। इस घटना पर बबीजेपी सांसद मनोज तिवारी ट्वीट किया कि जेजे कॉलोनी नं 2 नागलोई की मासूम छात्रा आम आदमी पार्टी की विश्व स्तरीय शिक्षा का शिकार हुई है। उन्होंने लिखा कि दिल्ली के मुखयमंत्री अरविंद केजरीवाल जानलेवा है आपकी यह व्यवस्था और झूठे हैं आप।

संपदा अधिकारी बर्खास्त

वहीं दिल्ली सरकार ने कहा कि इस मामले में उसने स्कूल के संपदा अधिकारी को बर्खास्त कर दिया है। एक सरकारी बयान में कहा गया है, ‘उक्त विद्यालय के संपदा अधिकारी की बर्खास्तगी समेत उपयक्त कार्रवाई की गई है. लापरवाही को लेकर कानूनी प्रक्रिया भी शुरू की गई है।’

 दिल्ली सरकार पर बीजेपी ने लगाया आरोप

इस मामले में सांसद मनोज तिवारी ने दिल्ली सरकार पर तंज करते हुए कहा कि स्कूल का जो कमरा 5 लाख में बन सकता है वो कमरे 33 लाख में बनाया जा रहा है। साथ ही स्कूल में रूम की संख्या बढ़ा कर दिखाने के लिए शौचालय को भी कमरे के रूप में गिन लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सेमी परमानेंट स्ट्रक्चर बनाकर ये स्कूलों का निर्माण करते हैं। मनोज तिवारी ने कहा कि आम आदमी पार्टी से हम जवाब की उम्मीद करते हैं, इसको भी शराब की तरह डायवर्ट मत कर देना।
Tags: BJP

Related Posts