लखनऊ थप्पड़ कांड: लड़की के साथ कोई समझौता नहीं करना चाहते सहादत अली, जेल भिजवाकर ही मिलेगा चैन

लखनऊ थप्पड़ कांड: लड़की के साथ कोई समझौता नहीं करना चाहते सहादत अली, जेल भिजवाकर ही मिलेगा चैन

सहादत अली ने पुलिस पर भी लगाया आरोप, मैंने मारा होता तो अब तक मैं जेल में होता

लखनऊ में घटी थप्पड़ कांड के थप्पड़ों की आवाज थमने का नाम नहीं ले रही है। उत्तर प्रदेश की राजधानी में एक थप्पड़ वाली लड़की द्वारा थप्पड़ मारे गए कैब चालक सहादत अली ने कहा कि अगर थप्पड़ मारने वाली लड़की को गिरफ्तार नहीं किया गया, तो वह उच्च न्यायालय जाएगा लेकिन लड़की को जेल भिजवाकर ही रहेगा।
आपको बता दें कि सहादत अली को थप्पड़ मारने वाली लड़की अब प्रियदर्शनि समझौता करना चाहती है लेकिन सहादत इसके लिए कतई तैयार नहीं है। उनके अनुसार, लड़की ने जो किया वो गलत किया है और इसके लिए उसे दंडित किया जाना चाहिए। वह उसके साथ कोई समझौता नहीं करता है। इस घटना से उनका सम्मान धूमिल हुआ है और समाज में उनका कोई सम्मान नहीं बचा है।
थप्पड़ गर्ल प्रियदर्शिनी के मुताबिक, अगर पुलिस ने अपना काम ठीक से किया होता तो वह थप्पड़ गर्ल नहीं बनती। वहीं सहादत अली ने लखनऊ पुलिस पर लड़की का समर्थन कर कोई कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया। उन्होंने पुलिस पर उनके मामले को कमजोर करने का भी आरोप लगाया। सहादत के मुताबिक अगर उनके हाथों कांड हुआ होता तो पुलिस ने अब तक उसे जेल भेज दिया होता।
इसके बाद सहादत ने कहा कि थप्पड़ मारने वाली लड़की ने उन्हें 22 बार थप्पड़ मारा। मैं औरत की इज्जत करने के लिए 30 थप्पड़ भी खा सकता हूं। वहीं पुलिस ने शिकायत की थी कि घटना को 15 दिन हो जाने के बाद भी लड़की को गिरफ्तार नहीं किया गया है। वहीं, लड़की द्वारा लगाए गए आरोपों से इनकार किया गया। सहादत के मुताबिक, वह लड़की से नहीं मिला और उसके साथ मारपीट भी नहीं की।