ब्रेकअप के बाद प्रेमी को सबक सिखाने के लिए इस लड़की ने जो किया जो जानकर हैरान रह जाएंगे आप

प्रेमी के बॉस के साथ रिलेशन बना, उनके साथ किया कांड

लेक सिटी के नाम से मशहूर उदयपुर में हुए एक हमले ने पुलिस वालों के साथ साथ लोगों को हैरान कर रखा हैं। दरअसल उदयपुर में  रहने वाले एक युवक पर तेजाब से हमला किया गया। हैरानी की बात ये है कि इस युवक की न तो किसी से रंजिश थी और न ही किसी से झगड़ा।  उल्टे उसकी 23 मई को शादी होनी थी। पुलिस इस बात से भी हैरान हैं कि आमतौर पर लड़कियां एसिड अटैक की शिकार होती हैं, लेकिन इस घटना में युवक पर एसिड अटैक किसने किया।
जानकारी के अनुसार उदयपुर निवासी अभिषेक सिंह एक सीमेंट फैक्ट्री में इंजीनियर के पद पर कार्यरत हैं। लॉकडाउन के कारण बस सेवा बंद होने के कारण अभिषेक अपने प्रबंधक रोशन सिंह राठौर के साथ फैक्ट्री जा रहा था। 7 मई को जब वह अपने बॉस का इंतजार कर रहा था तभी एक अजनबी ने उसकी पीठ पर तेजाब फेंक दिया और फरार हो गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जिस इलाके में तेजाब हमला हुआ है वहां के सीसीटीवी फुटेज को इकट्ठा कर जांच शुरू कर दी गई। इसमें पुलिस ने तेजाब फेंकने वाले की पहचान कर ली थी। आगे की जांच में पता चला कि तेजाब फेंकने वाले का नाम विक्रमसिंह राठौर था। पुलिस ने कुछ ही देर में विक्रम को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ शुरू कर दी।

पुलिस द्वारा पूछताछ के दौरान विक्रम ने पुलिस को बताया कि उसके बड़े भाई ने उसे अभिषेक पर तेजाब फेंकने को कहा था। जिसके लिए बड़े भाई रोशन सिंह ने उन्हें काम करने के लिए 40,000 रुपये दिए थे। आरोपी के कबूलनामे के बाद पुलिस ने उसके बड़े भाई को उठा लिया। पूछताछ में पुलिस को जो पता चला वह वाकई हैरान करने वाला था।
दरअसल रोशन सिंह ने पुलिस को बताया कि अभिषेक का उसके साथ काम करने वाली नायजा हुसैन नाम की युवती से अफेयर था। नायजा अभिषेक के साथ बतौर इंजीनियर काम कर रही थी। रोशन सिंह ने पुलिस को बताया कि नाइजा ने ही अभिषेक पर एसिड अटैक करने के लिए कहा था।  आखिरकार पुलिस ने नायजा को पकड़ लिया और उससे पूछताछ करने लगी।
 नायजा ने पुलिस को बताया कि वह और अभिषेक एक-दूसरे से प्यार करते थे। हालांकि इस बात की जानकारी उसके परिवार वालों को नहीं थी। इस बीच, अभिषेक की शादी उसके परिवार ने एक और लड़की के साथ तय कर दी। शादी तय होने पर अभिषेक ने नायजा से रिश्ता खत्म करने को कहा। प्यार में धोखा मिलने के बाद नायजा परेशान हो गई और उसने अभिषेक को सबक सिखाने का फैसला किया।
अभिषेक को सबक सिखाने का कोई दूसरा रास्ता न देखकर नाइज़ा ने मैनेजर रोशन सिंह का सहारा लिया।  अभिषेक के साथ ब्रेकअप के बाद नायजा अपने बॉस रोशन के साथ रिलेशनशिप में आई और मौके का फायदा उठाकर उसने बॉस को अभिषेक को सबक सिखाने की बात कही। इसके बाद दोनों ने मिलकर अभिषेक पर एसिड अटैक करने का फैसला किया, जिसमें वह मरेगा भी नहीं और वह एक ऐसा सबक सीखेगा जो जीवन भर याद रहेगा।
इस काम पूरा करने के लिए रोशन सिंह ने अपने भाई विक्रम सिंह को 40 हजार रुपये के साथ तेजाब की बोतल भी दी। पहले से तय योजना के मुताबिक अभिषेक एक जगह फैक्ट्री जाने के लिए रोशन सिंह का इंतजार कर रहा था तभी विक्रम सिंह ने उस पर तेजाब फेंक दिया और फरार हो गया। भयभीत अभिषेक ने रोशन सिंह को फोन किया और घटना की सूचना दी और यह रोशन सिंह ही थे जो अभिषेक को अस्पताल ले गए।
फिलहाल पुलिस ने नायजा, उसके बॉस रोशन सिंह और उसके भाई विक्रमसिंह को गिरफ्तार कर कार्यवाही शुरू कर दी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें