ब्रिटेन से ब्राजील लौटी इस सेक्सवर्कर की कहानी सुनकर सहम उठेंगे आप, किसी नरक जैसी थी जिंदगी

(File Photo: IANS)

चैनल4 के एक डाक्यूमेंट्री के लिए सिल्विया ने साझा की अपनी कहानी

ब्राजील से ब्रिटेन लाई गई सिल्विया की कहानी किसी फिल्म से कम नहीं है। सिल्विया कुछ साल पहले बड़े सपनों के साथ ब्रिटेन गयी थी। लेकिन उनके सपने तब चकनाचूर हो गए जब उसे वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेल दिया गया। उसकी जिंदगी एक ऐसी जगह थी जहाँ उसे दिन में 16 से 17 घंटे काम करना पड़ता था और काम करने से मना करने पर उसे पीटा जाता था। करीब सात साल तक नरकीय जीवन जीने के बाद उन्हें इस नर्क से बाहर निकलने का मौका मिला और सिल्विया सीधे ब्राजील चली गईं।
डेली मेल के अनुसार, सिल्विया ने एक चैनल के एक डाक्यूमेंट्री ‘हंटिंग द सेक्स ट्रैफिकर्स’ के लिए जानकारी दी। सिल्विया ने कहा कि इसे ब्रिटेन के कई वेश्यालयों में बेचा जाता था। जहां उससे हफ्ते के सातों दिन, दिन में 16 से 17 घंटे काम कराया जाता था और उसे मात्र 20 डॉलर यानी करीब दो हजार रुपये ही मिलते थे। महज 20 डॉलर पर एक दिन में 10 से 12 ग्राहकों की शारीरिक भूख मिटानी पड़ती। उसने बताया कि जो ग्राहक पैसे देकर उनका शरीर खरीदता, उस ग्राहक के कहने पर सब कुछ करना पड़ता जो वह कहता। ग्राहकों द्वारा मिलने वाले शारीरिक कष्ट के बावजूद पूरी तरह संतुष्ट रहना होता।
सिल्विया के देह को रोज 10 से 12 ग्राहक नोच रहे थे और उसके पास चुप रहने के अलावा कोई चारा नहीं था। ग्राहक जो करता है उसे सहन करने के अलावा कोई चारा नहीं था। कोई तो इन महिलाओं के गुप्त अंगों को घायल कर देता, फिर भी चुप रहने के अलावा कुछ नहीं कर सकते। इन्हें बस चुपचाप मुस्कुराते हुए सहना पड़ता था। आगे सिल्विया ने बताया कि लंदन में यौनकर्मियों के साथ लूटपाट भी आम है। युवकों के एक समूह को चाकू की नोंक पर लूटा जा रहा था और महिलाओं में पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की हिम्मत नहीं हुई। इतना ही नहीं वहां सेक्स वर्कर्स के साथ रेप भी आम बात है। सिल्विया ने अपने ऊपर हुए अत्याचारों को याद करते हुए कहा कि ब्रिटेन में एचआईवी की महामारी फैली हुई थी। पॉजिटिव व्यक्ति ने उसके साथ दुष्कर्म किया।
सिल्विया ने एक घटना को याद करते हुए कहा "एक दिन मैं ऑक्सफोर्ड में थी। तभी एक युवक आया और मुझे अपने साथ ले गया। वहां उसने मेरी मर्जी के खिलाफ कंडोम फेंककर मेरे साथ सेक्स किया। बाद में उन्होंने मुझे मैसेज किया और बताया कि मैं एचआईवी से संक्रमित हूं।” 
आपको बता दें कि चैनल4 की यह डाक्यूमेंट्री संगठित अपराध की पुलिस जांच पर आधारित है। जिसमें सिल्विया जैसी और भी कई महिलाओं को दिखाया गया है जिनको जिस्म के धंधे में भेजा गया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें