पत्नी अपने पीहर वालों से फोन पर बतियाती रहती, मामला तलाक तक पहुंचा, फिर इस तरह हुई सुलह!

प्रतिकात्मक तस्वीर(Photo Credit : Pixabay.com)

पत्नी के फोन का इस्तेमाल कम करने पर ही ले आने को राजी हुआ पति, पत्नी ने भी किया फोन नहीं इस्तेमाल करने का वादा

आजकल मोबाइल फोन जितना जरूरी है, उतना ही दूषण भी बनता जा रहा है। सूरत के एक खुशहाल दंपति के बीच मोबाइल को लेकर ऐसा विवाद खड़ा हुआ कि पति ने पत्नी को छोड़ देने का मन बना लिया। पत्नी ने जब ससुराल में फोन का उपयोग नहीं करने का भरोसा दिलाया तब पति उसे वापस लेकर गए। 
विस्तृत जानकारी के अनुसार, सूरत के सैयदपूरा क्षेत्र में रहने वाले रहीम की शादी 2 फरवरी में रोज शबाना (दोनों के बदले हुये नाम) के साथ हुई थी। यह दोनों बड़े खुशहाली से जीवन बिता रहे थे। हालांकि एक दिन दोनों के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा होने पर शबाना मायके चली गई और कुछ दिनों में ही पति के खिलाफ दहेज और उत्पीड़न की शिकायत दर्ज करवाई। तब से इस परिवार के बीच समाधान के प्रयास चल रहे थे। पति ने कहा कि यदि मोबाइल का उपयोग करना बंद कर देगी तभी मैं इसको वापस ले जाऊंगा। इस पूरे विवाद के केंद्र में मोबाइल फोन था। शबाना दिन भर अपने मायके वालों से बात करते रहती थी जो कि पति को नापसंद था। 
शबाना का फोन का लगाव इतना बढ़ गया था कि वह अपने पति को भी समय नहीं दे रही थी। पति की शिकायत से दोनों पक्ष के बुजुर्ग भी दंग हो गए और उन्होंने पति से कहा कि शबाना की गलतियों को माफ करके एक बार उसे स्वीकार कर लो। कोर्ट के समक्ष समाधान में शबाना ने ससुराल में मोबाइल फोन का उपयोग नहीं करने का विश्वास दिलाया। इस तरह अब फोन ने पति-पत्नी के बीच की तरह जगह ले ली है। दांपत्य जीवन को किस तरह बर्बाद कर रहा है यह देखा जा सकता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें