वडोदरा : पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, आखिरकार तीन लापता बच्चों को ढूंढ निकाला

प्रतिकात्मक तस्वीर

तीनों बच्चे बुधवार रात करीब नौ बजे वडोदरा रेलवे स्टेशन के पहले गेट के पास मिले

 शहर के फतेहगंज से दो दिन पहले श्रमजीवी परिवार के तीन बच्चे लापता हो गए थे। जिसके बाद वडोदरा पुलिस ने जांच शुरू की। तीनों बच्चे बुधवार रात करीब नौ बजे वडोदरा रेलवे स्टेशन के पहले गेट के पास मिले। जिसके बाद पुलिस ने तीनों बच्चों को उनके माता-पिता को सौंप दिया है। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर में फतेहगंज पुल के पास रहने वाले एक मजदूर वर्ग के परिवार के तीन बच्चे 20 तारीख की देर शाम लापता हो गए थे।  जिसके बाद उनकी तलाशी शुरु की गई। तीनों बच्चों का पता नहीं चलने पर फतेहगंज पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगालने के लिए टीम गठित की। उन थानों के संदेशों की भी जांच की गई जहां लापता बच्चे दूसरे पुलिस स्टेशन में पाए गए थे। एक अन्य टीम रेलवे स्टेशन व एसटी डिपो में सार्वजनिक स्थलों का निरीक्षण करने गई।
पुलिस ने जांच के लिए अलग-अलग टीमें बनाईं?
गौरतलब है कि फतेहगंज ब्रिज के पास कई श्रमजीवी परिवार रहते हैं। जो छूटक मजदूरी कर भरणपोषण करता है। इनमें से एक परिवार के तीन बच्चे खेलते-खेलते अचानक लापता हो गए। परिजनों ने पुलिस को बताया कि सभी संभावित स्थलों पर जांच के बाद भी बच्चे नहीं मिले। इसके बाद परिजनों ने बच्चों के लापता होने की जानकारी पुलस को दी। इस घटना के बाद परिवार पर दुःखों का पहाड़ टूट गया। फतेहगंज पुलिस को सूचना देने के बाद पुलिस ने फौरन लापता बच्चों की तलाश के लिए विभिन्न टीमों का गठन किया। 
इसके बाद सीसीटीवी फुटेज समेत लोगों से पूछताछ की गई। इस बीच, पुलिस ने उन थानों से संदेशों की जांच की जहां लापता बच्चे पाए गए थे, जबकि एक अन्य टीम रेलवे स्टेशनों और एसटी डिपो में जाने के लिए सार्वजनिक स्थानों की जांच कर रही थी। इस दरम्यान वडोदरा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर लापता बच्चे मृत पाए गए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें