ये है दुनिया का सबसे कीमती आम, रखवाली के लिए 24 घंटे बगीचे में तैनात रहते हैं कुत्ते और गार्ड्स

अंतरराष्ट्रीय बाजार में एक किलो आम की कीमत 2 लाख 70 हजार, पहले इस आम की खेती केवल जापान में की जाती थी लेकिन अब भारत, बांग्लादेश और थाईलैंड के किसान भी इस आम को उगा रहे हैं

भारत एक कृषि प्रधान देश है। इस देश में फलों की बहुत सी प्रजातियाँ पाई जाती है। आम के मामले में भी हम भारतीय भाग्यशाली हैं क्योंकि भारत में आम की कई अलग-अलग प्रजातियों की खेती की जाती है। आम किसे नहीं पसंद होते, हर कोई इसके दीवाने हैं। गर्मियों की शुरुआत के साथ ही आम का मौसम शुरू हो जाता है। इस मौसम में आम के दीवाने छक के आम खाते हैं। लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि किसी एक आम की कीमत लाखों में हो? हम जिस आम की बात कर रहे है उस आम का नाम मियाज़ाकी है। इस एक आम की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 2 लाख 70 हजार रुपये बताई जा रही है। ऐसे में इस आम की सुरक्षा के लिए खास इंतजाम किये गये हैं।
पहले इस आम की खेती केवल जापान में की जाती थी लेकिन अब भारत, बांग्लादेश और थाईलैंड के किसान भी इस आम को उगा रहे हैं। मध्य प्रदेश के जबलपुर में रहने वाले किसान संकल्प परिहार को अब इस बगीचे में लगे आम की रखवाली के लिए कुत्ते और गार्ड्स 24 घंटे बगीचे में तैनात रहते हैं। जबलपुर में रानी और उनके पति संकल्प परिहार ने यह कीमती आम लगाया है। इस आम का छिलका नारंगी नहीं बल्कि बैंगनी रंग का होता है। मियाज़ाकी दुनिया के सबसे महंगे आमों में से एक है। इस जापानी आम का नाम टाइयो नो टमैंगो है, इसे एग ऑफ सन यानी सूर्य का अंडा भी कहा जाता हैं। 
जानकारों का मानना है कि जब यह आम पूरी तरह से पक जाता है तो हर आम का वजन 900 ग्राम तक होता है।इसका रंग हल्का लाल और पीला हो जाता है और इसकी मिठास ऐसी होती है कि लोग इसकी कीमत चुकाने को तैयार हो जाते हैं। एक अनुमान के मुताबिक एक किलो मियाजाकी आम की कीमत करीब 2.70 लाख रुपये है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें