चद्दर-तकिये और कंबल की ट्रेनों में कोरोना काल में बंद हुई सेवा अब धीरे-धीरे यात्रियों को मिलने लगी है!

कोरोना काल में कोविड गाइडलाईंस के पालन के मद्देनजर रेलवे ने गाड़ियों में बैडरोल देना बंद कर दिया था। ऐसी कोचों में यात्रियों को बिना चद्दर-तकिये और कंबल के यात्रा करनी पड़ रही थी। लेकिन अब कोरोना के सामान्य हुए हालातों और कई रद्द हुईं ट्रेनों के फिर से चलना शुरु होने के बाद गाड़ियों में यात्रियों के लिये बैडरोल सुविधा फिर मिलने लगी हैं। 
एक रिपोर्ट के अनुसार अब तक लगभग 1300 ट्रेनों में बैडरोल की सुविधा यात्रियों को मुहैया कराई जा रही है। आने वाले दिनों में और अधिक ट्रेनों के एसी कोचों में ये सुविधा मिलने लगेगी। इससे यात्रियों को रात के समय यात्रा करने में सहुलियत हो गई है। लेकिन कई यात्रियों को यात्रा करने से पहले यह पता नहीं होता ‌कि आखिर वे जिस ट्रेन से जाने वाले हैं, उसमें बैडरोल मिलेगा भी या नहीं। 
रेलवे की वेबसाइट पर अब यात्री पहले से इस बात का पता लगा सकते हैं। यदि आप भी रेल में यात्रा कर रहे हैं और जानना चाहते हैं कि आपकी ट्रेन में बैड रोल उपलब्ध है या नहीं तो यहां दिये लिंक पर क्लिक करें।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें