मोबाइल में गेम खेलने के चक्कर में में गई चार बहनों के एकलौते भाई की जान

प्रतिकारात्मक छवि

गेम खेलने के चक्कर में खुद को किया कार में बंद, दम घुटने से हुई मौत

उत्तर प्रदेश के मथुरा में एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है।  थाना रिफाइनरी के बरारी गांव में घर के बाहर पड़ी कार में एक बच्चे की दम घुटने से मौत हो गई।  जानकारी के अनुसार बरारी गांव के निवासी रिंकू अग्रवाल का आठ वर्षीय पुत्र कृष्णा मोबाइल में खेलते खेलते समय अपने पिता की कार में सवार हो गया।  उसने कार का दरवाजा और शीशा बंद कर लिया। मोबाइल में गेम खेलते समय कृष्णा कार में बेहोश हो गया।  रात को जब घर के सभी सदस्य सोने चले गए तो कृष्णा घर में नजर नहीं आया।
इसके बाद परिजनों ने बच्चे की तलाश करने की कोशिश की। घंटों तलाश के बाद भी बच्चे का कोई पता नहीं चला।  इसके बाद जब बच्चे के पिता ने उन्हें अपनी ही कार में देखा तो तुरंत उसे बचाने गये।कार का दरवाजा खोलने पर कृष्णा कार में बेहोश मिला। उनके हाथ में एक मोबाइल फोन था। परिवार ने कार का दरवाजा खोलकर उसे बाहर निकाला और उसे निजी अस्पताल ले जाया गया।  जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
बच्चे की मौत से परिवार में मातम का माहौल है। डॉक्टर के मुताबिक कृष्णा की मौत दम घुटने से हुई है।एस एमें अनुमान लगाया जा रहा है कि कृष्ण ने मोबाइल पर गेम खेलते समय कार का दरवाजा बंद कर लिया होगा और इस तरह खुद को गाड़ी में बंद कर लिया होगा।
जानकारी के अनुसार रिंकू अग्रवाल के 5 बच्चे हैं। जिनमें कृष्ण सबसे छोटा था। मृतक कृष्ण का जन्म चार बहनों के बाद हुआ था। रिंकू की सबसे बड़ी बेटी नंदिनी 15 साल की है। उनके बाद छोटी पूजा, आरती और खुशबू है।  सबसे छोटा कृष्ण था। घर के चिराग के बुझ जाने से परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें