दुर्घटना या बीमारी के दौरान अब सरकार देगी इलाज का पैसा, जानें सरकार की इस खास योजना के बारे में

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

ई-लेबर पोर्टल पर पंजीकरण कर आयुष्मान योजना के तहत कोई भी श्रमिक हासिल कर सकता है सरकारी सहाय

अगर आप असंगठित क्षेत्र के कर्मचारी हैं और आपकी मासिक आय 15 हजार रुपये से कम है तो आपके लिए अच्छी खबर है। आप ई-लेबर पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते हैं। यह आपको किसी दुर्घटना या बीमारी के दौरान खर्च की चिंता से मुक्त करेगा। ई-लेबर पोर्टल पर पंजीकरण के बाद श्रमिक दुर्घटना की स्थिति में 2 लाख रुपये के बीमा का हकदार होगा।पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन से कोई भी श्रमिक आयुष्मान भारत योजना में शामिल हो जाएगा, जो परिवार को प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करती है। इसके साथ ही आपात स्थिति में सरकारी सहायता भी दी जाएगी।
इस बारे में किसी भी तरह की मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर 14434 पर संपर्क किया जा सकता है। इसके अलावा पोर्टल www.gms.eshram.gov.in के माध्यम से भी शिकायत दर्ज की जा सकती है। बता दे की असंगठित कर्मचारियों में निर्माण मजदूर, घरेलू कामगार, रिक्शा चालक, फेरीवाले, पर्यटक और प्लेटफार्म मजदूर, कृषि श्रमिक, मनरेगा समेत सभी तरह के मजदूर शामिल हैं। जिनकी मासिक आय 15 हजार रुपये से कम है।
अगर आपका मोबाइल नंबर आधार से लिंक है तो आप खुद ही अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके लिए ई-लेबर पोर्टल www.eshram.gov.in पर जाएं। साथ ही जिस आधार पर मोबाइल नंबर लिंक नहीं है, उसे रजिस्ट्रेशन के लिए सीएससी में जाना होगा। ऐसे श्रमिकों का बायोमीट्रिक सत्यापन के माध्यम से पंजीकरण किया जाएगा। ई-लेबर कार्ड सीएससी पेपर पर प्रिंट कर कार्यकर्ता को दिया जाएगा। रजिस्ट्रेशन बिल्कुल फ्री होगा और इसके लिए कोई भी शुल्क नहीं देना होगा।
कौन पंजीकरण कर सकता है?
  • कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) या राज्य बीमा निगम (ESIC) का लाभ नहीं उठाने वाले 16 से 59 वर्ष की आयु के बीच के श्रमिक।
  • कर्मचारी जो आयकर दाता नहीं हैं।
  • कर्मचारी जो सरकारी कर्मचारी नहीं हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें