घर के बाहर सुख रहे कपड़े बने थे लादेन की जान के दुश्मन, जानें किस तरह घर तक पहुंची थी CIA

(Photo Credit : gujaratsamachar.com)

पाकिस्तान के एबटाबाद में ओसामा ने बनवाया था अपने परिवार के लिए घर

9/11 आतंकवादी हमले के मास्टरमाइंड ओसामा बिन लादेन को साल 2011 में घर के अंदर घुस के मारा था। एकदम छिपी तरह से बनाए घर में रहने के बावजूद ओसामा बिन लादेन के घर का पता लगाकर ऑपरेशन को अंजाम दिया था। एक नई किताब ध राइस एंड फॉल ऑफ ओसामा बिन लादेन में दी गई जानकारी के अनुसार लादेन के घर सुख रहे कपड़ों की संख्या के आधार से CIA ने उसकी पहचान की थी। यह किताब सीएनएन के राष्ट्रीय सुरक्षा विश्लेषक और पूर्व सीएनएन प्रोड्यूसर पीटर बर्गन ने लिखी है। 
किताब के अनुसार, अमेरिका में हुई 9/11 के हमले के बाद लादेन का घर पूरी तरह से बिखर गया था। लादेन अफघानिस्तान के पहाड़ियों और उत्तरी पाकिस्तान में छिपा फिर रहा था। इसके बाद ओबामा ने अपने पूरे परिवार को एक साथ लाने की कसम खाई थी। जिसके लिए लादेन ने अपने बोडीगार्ड को एक जमीन खरीद कर पाकिस्तान के एबटाबाद में एक घर बनाने के लिए कहा था। लादेन के कहे अनुसार उसके बॉडीगार्ड ने एबटाबाद में तीन माल का घर बनवाया था। जिसमें पहले और दूसरे माले पर चार-चार बेडरूम बनवाए थे। सबसे ऊपर के माल पर लादेन के रहने के लिए एक बेडरूम, स्टडी, बाथरूम और छत बनाई गई थी। 
साल 2005 से इस घर में सभी ने आना जाना शुरू कर दिया था। लादेन का बॉडीगार्ड भी उनके साथ ही रहता था। उसे किसी के साथ भी बातचीत करने की अनुमति नहीं थी। साल 2010 में एक दिन पेशावर के एक गुप्तचर ने कथितरूप से लादेन के बॉडीगार्ड को भीड़ में देखा और उसका पीछा किया। जिसके बाद वह लादेन के निजी घर तक पहुंचे। घर को लादेन के बोडीगार्ड के घर के तौर पर ही जाना जाता था। हालांकि घर में कुछ चीजें ऐसी थी, जिसे देखकर सीआईए की शंका बढ़ गई। घर में कोई भी टेलीफोन और केबल की लाइन नहीं थी, इसके अलावा घर में खिड़कियाँ भी काफी कम थी। 
सीआईए ने घर के बाहर सूखने के लिए रखे कपड़ों पर नजर रखी, जो की उन्हें मात्र बोडीगार्ड और उसके परिवार की तुलना में काफी अधिक दिखे। जिसके बाद सीआईए ने तत्कालीन राष्ट्रपति ओबामा के सामने सभी सबूत पेश किए। अंत में अमेरिकी सैन्य द्वारा एक अभियान चलाया गया, जिसमें ओसामा बिन लादेन को मार गिराया गया। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें