सावधानी हटी दुर्घटना घटी; कोविड मृतक की अंतिम क्रिया में पहुंचे 150 में से 21 की मौत

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

जमकर उड़ी कोविड दिशानिर्देशों की धज्जियाँ, शव को प्लास्टिक से निकल कर दफनाया गया

राजस्थान के सीकर जिले से एक ऐसा मामला सामने आया हैं जिसके बाद आसपास के इलाकों में हडकंप मचा हुआ हैं। दरअसल सीकर के एक गांव में एक कोविड पीड़िता के शव को दफनाने के बाद लगभग 21 लोगों की जान चली गई। जानकारी के अनुसार मरीज के शव को बिना किसी कोविड प्रोटोकॉल का पालन किए गुजरात से सीकर लाया गया और गांव में अंतिम संस्कार किए जाने के बाद शव के संपर्क में आए करीब 21 लोगों की जान चली गई।

जानकारी के अनुसार कोविड पीड़ित के संक्रमित शरीर को 21 अप्रैल को गांव लाया गया था और कोविड दिशानिर्देशों की धज्जियाँ उड़ाते हुए 150 से अधिक लोग इस अंतिम संस्कार में शामिल हुए थे। साथ ही ये जानकारी मिली हैं कि मृतक के कोरोना संक्रमित शव को प्लास्टिक की थैली से बाहर निकालकर दफनाया गया था और इसी दौरान बहुत से लोगों ने उस लाश को छुआ था। हालांकि लक्ष्मणगढ़ के उप-विभागीय अधिकारी कुलराज मीणा ने कहा कि 21 मौतों में से केवल कोविड-19 के कारण 3-4 मौतें हुईं।

इस घटना के बाद अधिकारियों ने एक मेडिकल टीम के साथ रिपोर्ट प्राप्त करने के बाद गांव का दौरा किया और गांव को तत्काल रूप से साफ करने के निर्देश दिए गए। अन्य संक्रमित लोगों को ठीक करने के लिए मेडिसिन किट भी वितरित किए गए। इस मामले में सीकर के जिला कलेक्टर अविरल चतुर्वेदी ने कहा कि अधिकारियों ने गांव का दौरा किया और लोगों को सभी सामाजिक समारोहों में उचित कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की हिदायत देते हुए वास्तविक स्थिति जानने के लिए डोर-टू-डोर सर्वे भी किया। अब पुरे गाँव को सेनिटाईज किया जा रहा हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें