सीरिया : एक और अस्पताल पर हुई मिसाइल की बारिश, कई निर्दोषों की गई जान

अब तक किसी ने नहीं ली हमले की ज़िम्मेदारी, कुर्दिश समूह पर किया जा रहा है शक

युद्धग्रस्त देश सीरिया में एक बार फिर अस्पतालों को निशाना बनाया गया है। उत्तरी शहर के एक अस्पताल को मिसाइल से निशाना बनाया गया है। जिसमें दो डॉक्टरों समेत कुल 13 लोगों की मौत हो गई। बता दे की शहर तुर्की के कब्जे में है। हालांकि अभी तक घटना के पीछे किसका हाथ था वह पता नहीं चल पाया है। तुर्की के हताय प्रांत के गवर्नर ने कहा कि शनिवार के हमले में 13 लोग मारे गए और 27 घायल हो गए। गवर्नर कार्यालय ने हमले के लिए सीरियाई कुर्दिश समूह को जिम्मेदार ठहराया है। ब्रिटिश मानवाधिकार समूह सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने मरने वालों की संख्या 18 बताई।
MAMS के अनुसार, मिसाइल के गिरने से शिफा अस्पताल के पॉलीक्लिनिक विभाग, आपातकालीन सेवा विभाग और डिलीवरी रूम पूरी तरह से ध्वस्त हो चुका है। एमएएमएस द्वारा अस्पताल पर हुए हमले के बारे में जांच करने की भी मांग की थी। बता दे की सीरिया एक युद्धग्रस्त देश है, जहां अब तक 5 लाख लोग युद्ध के कारण मारे जा चुके हैं। जबकि बड़ी संख्या में लोगों को जान बचाकर दूसरे देशों में शरण लेनी पड़ी है। यहां बशर अल-असद पिछले 21 साल से राष्ट्रपति हैं। उन्होंने इस साल का चुनाव भी जीत लिया है। 
हालांकि इन चुनावों को एकतरफा (सीरियाई राष्ट्रपति चुनाव) माना जाता है। उन्हें यह शक्ति अपने पिता हाफिज अल-असद से विरासत में मिली थी। 2011 में अरब स्प्रिंग के बाद से देश तबाह हो गया है। असद ने अभी तक 2015 के संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव को लागू नहीं किया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें