सूरत : मानहानि के मामले में अदालती पेशी में पहुंचे राहुल गांधी, एक घंटा कोर्ट में रहे

साल 2019 के दौरान दिये गए भाषण में सभी मोदी सरनेम वाले चोर होने का दिया था व्यक्तव्य

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को चंद घंटों के लिये सूरत आये। दरअसल, विगत वर्षों में कर्नाटक में एक चुनावी सभा के दौरान राहुल गांधी ने एक आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी थी, जिसके आधार पर उनके खिलाफ मानहानि का दावा किया गया। इसी मामले में पेशी के लिये राहुल गांधी सूरत पहुंचे थे।
आपको बता दें कि राहुल गांधी ने अपने बयान में कथित रूप से कहा था कि ‘सभी चोर ‘मोदी’ ही होते हैं! उनकी टिप्पणी का तात्पर्य नीरव तोदी, ललित मोदी सहित नामों के उपरांत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर आरोप लगाना था। इस संबंध में सूरत पूर्व विधानसभा सीट से भाजपा विधायक पूर्णेश मोदी ने राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि का दावा ठोक दिया था। उनका कहना था कि राहुल गांधी ने समग्र मोदी समाज के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की है जिससे समाज की भावना को ठेस पहुंची है। वे मरते दम तक ये लड़ाई लड़ते रहेंगे। हमें न्याय पालिका पर पूरा भरोसा है। 
उधर कांग्रेसी नेता अमित चावड़ा ने इस पूरे मामले को राजनीति से प्रेरित बताते हुए कहा है कि लोक नेता राहुल गांधी को परेशान किया जा रहा है और उन पर गलत मामला दायर किया गया है। पूरी पार्टी उनके नेता राहुल गांधी के साथ खड़ी हुई है। कोर्ट में पूछे गए सवालों के जवाब में राहुल गांधी ने व्यक्तिगत रूप से इसके बारे में उन्हें कोई भी जानकारी नहीं होने का बताया था। हालांकि कोर्ट द्वारा शिकायतकर्ता के 2 गवाहों को पेश करने की याचिका खारिज कर दी गई थी। ऐसे में मामले की सुनवाई टल गई है, पर यदि फिर से सुनवाई हुई तो वापिस राहुल गांधी को सूरत आना पड़ सकता है। 
याद रहे कि इसी मामले में राहुल गांधी अक्टूबर 2019 में भी पेशी में उपस्थित रहने सूरत आये थे। अब दूसरी बार वे सूरत पहुंच और अपना बयान दर्ज कराया। एक घंटे अदालत में रहने के बाद वे सीधे हवाई अड्डे के लिये रवाना हो गये।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें