सूरत : एकल श्रीहरि सत्संग समिति के सदस्यों ने कारगिल में सैनिकों के साथ मनाया रक्षाबंधन

एकल श्रीहरि सत्संग समिति द्वारा कारगिल की सीमाओं पर तैनात सैनिकों के साथ रक्षाबंधन मनाया गया

समिति की महिला सदस्यों ने सभी फौजी भाइयों को राखी बांधी और सैनिकों ने बहनों को उपहार भी दिया

एकल श्रीहरि सत्संग समिति द्वारा कारगिल की सीमाओं पर तैनात सैनिकों के साथ रक्षाबंधन मनाया गया एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर सूरत के अलावा मुम्बई, कोलकाता और नासिक के सदस्य कारगिल गये थे। कारगिल यात्रा में कुल 58 लोग थे, जिसमें 30 पुरुष , 25 महिलायें और 3 युवा थे।  इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम का संचालन मंजू मित्तल द्वारा किया गया। उन्होंने देश भक्ति से ओतप्रोत और वीर सैनिकों के सम्मान में स्वरचित कविता भी पढ़ी। कार्यक्रम में स्वागत भाषण एकल श्री हरि सत्संग समिति की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मीना नारायण अग्रवाल ने किया एवं मंजू सुराना, सुषमा गुप्ता, कांता सोनी और उषा दारूका ने कविता का पाठ किया। इनके अलावा 10-12 भाई-बहनों ने मिलकर एक नाटिका प्रस्तुत की। जिसमें देश भक्ति और सैनिकों का समर्पण दिखाया गया।
 कार्यक्रम में कर्नल नितिन ने कारगिल युद्ध और एलओसी के बारे में विस्तार से बताया और सभी प्रश्नों के संतोषजनक जबाब दिए एवं समिति के कार्यों की सरहाना की। एकल श्री हरि के राष्ट्रीय अध्यक्ष सीए महेश मित्तल ने एकल श्री हरि के बारे में जानकारी प्रदान की एवं भारत माता की जय के उद्घोष लगाते हुए एकल श्री हरि के सदस्यों को देश के लिए कार्य करने की शपथ भी दिलायी। अंत में बहनों ने सभी फौजी भाइयों को राखी बांधी और सैनिकों ने बहनों को उपहार भी दिया। इस दौरान पूरा वातावरण देश भक्ति और रक्षा बंधन उत्सव जैसा हो गया। आयोजन में सूरत से प्रांतीय अध्यक्ष रतनलाल दारूका, चैप्टर अध्यक्ष रमेश अग्रवाल, मंत्री विश्वनाथ सिंघानिया , कोषाध्यक्ष अशोक टिबडेवाल, उपाध्यक्ष जयप्रकाश सोनी, ललित सराफ, राजेश पंसारी, सुशील सोन्थलिया, अरुण सोन्थलिया, जगदीश अग्रवाल और प्रदीप दारूका एवं सभी के परिवार के सदस्य उपस्थित रहे ।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें