सूरत : जमीन व रीयल एस्टेट ब्रोकर्स के यहां जांच में मिले करोड़ों के दस्तावेज

(Photo Credit : twitter.com)

मंगलवार शाम तक सभी ठिकानों पर आयकर विभाग की जांच पूरी

आयकर विभाग ने सोमवार को सूरत और सोनगढ़ में जमीन खरीदने-बेचने, रीयल इस्टेट के दलालों और रुपये ब्याज पर देने में शामिल कुल छह लोगों के यहां जांच शुरू की थी। सभी जगहों पर शुरू हुई जांच मंगलवार शाम को खत्म हो गई। आयकर अधिकारियों ने सभी जगहों से जमीन की खरीद-बिक्री के दस्तावेज, साटाखत और रुपये लेने वालों का ब्योरा बरामद किया। विभाग को प्रथम दृष्टया 110 करोड़ रुपए से अधिक के लेन-देन के दस्तावेज मिले हैं। जिसकी जांच शुरू कर दी गई है।

कुल छह जगहों पर जांच चल रही थी


आयकर विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आयकर विभाग के डीआई विंग ने सोमवार सुबह से जमीन मकान की खरीदी तथा ब्रोकरेज से जुड़े किरीट मेहता, बलवंत पटेल, अर्जुन सोलंकी एवं मुन्ना समेत कुल छह जगहों पर जांच शुरू की। जांच के दौरान विभाग को किरीट मेहता के पास से जमीन के दस्तावेज और डायरियां मिलीं। इसमें रुपये ब्याज देने की भी जानकारी है। सूत्रों की मानें तो डायरी में इस बात का जिक्र है कि कुछ बड़े बिल्डरों और व्यापारियों ने ब्याज पर रुपये लिया है। जबकि जम्बू शाह के यहां कार्यवाही के दौरान दस्तावेजों से भरे बैग को गैलरी से नीचे फेंक दिया, लेकिन अधिकारी पहले से ही वहां थे और बैग को जब्त कर लिया। सभी जगहों से विभाग के पास थोक जमीन खरीद बिक्री दस्तावेज, डीड, निवेश दस्तावेज और ब्याज से रुपये लेने वालों की सूची है। आयकर विभाग ने इन सभी सौदों को आयकर में बताया गया है कि नहीं इसकी जांच शुरू कर दी है।  

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें