अफगानिस्तान संकट : मंगलवार को 25 सिख सहित 78 मुसाफिरों को किया भारतीय वायुसेना के विमान द्वारा किया गया रेस्क्यू

(Photo Credit : sandesh.com)

ताजिकिस्तान के दुशांबे से एयर इंडिया के स्पेशल प्लेन से भारत आ रहे है सिख

अफगानिस्तान में चल रहे तालिबान संकट के बीच मंगलवार को 25 और भी सिख वापिस भारत आए थे। ताजिकिस्तान के दुशांबे से एयरइंडिया के विमान में आए इस विमान में पूरे 78 यात्री थे, वापिस आने पर केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पूरी ने उनका स्वागत किया था। सभी सिख सर पर गुरु ग्रंथ साहिब रखकर एयरपोर्ट से बाहर निकले थे। बता दे कि इसके एक दिन पहले भी काबुल से भारतीय वायुसेना के विमान द्वारा दुशांबे आए थे। 
सोमवार को भारत ने 75 सिखों को अफगानिस्तान से सफलतापूर्वक निकाला था। सरकार ने कहा कि यह प्रक्रिया अभी भी चालू रहेगी। विदेश मंत्रालय की और से जानकारी दी गई की 25 सिख सहित 78 मुसाफिरों को ताजिकिस्तान के दुशांबे से एयर इंडिया के विशेष विमान द्वारा नई दिल्ली लाया जा रहा है। मंत्रालय के प्रवक्ता ने 'वाहे गुरु की खालसा, वाहे गुरु की फतेह' का नारा लगा रहे सिख समुदाय के लोगों का एक वीडियो भी पोस्ट किया था। 
इसके पहले भारत पहुंचे नागरिकों ने भारत माता की जया के नारे लगाते हुये वीडियो शेयर किए थे। केन्द्रीय मंत्री हरदीप सिंह पूरी ने ट्वीट किया की गुरु ग्रंथ साहिब की तीन कृति और 46 अफगान सिख-हिंदू सहित 78 लोगों को भारतीय वायुसेना द्वारा निकाला जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इंडियन वर्ल्ड फॉर्म के अध्यक्ष पुनीत सिंह चांडक ने कहा की अभी भी 200 से अधिक अफगान सिख और हिंदू अभी भी फंसे हुये है। इन सभी ने काबुल के कर्ते परवान गुरुद्वारा में आशरा लिया है, जो की एयरपोर्ट के काफी नजदीक है। 
उल्लेखनीय है की रविवार को भी 540 नागरिकों को भारत ने अफगानिस्तान से निकाला था। इस दौरान अफगान शिख अपने सर पर गुरु ग्रंथ साहिब को रखकर काबुल एयरपोर्ट का 10 किलोमीटर का रास्ता पार कर रहे थे। उन सभी के दिल में तालिबानियों का डर था। हर कुछ अंतराल पर तालिबान के चैक पॉइंट थे। ऐसे में एयरपोर्ट तक पहुंचाना भी काफी कठिन था। पर अंत में वह सभी भारत सही सलामत पहुँच गए थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें