सेल्फी का प्यार बना मौत का कारण, नदी किनारे फोटो खींच रही महिला और होने वाली पुत्रवधू पानी में डूबे

(Photo Credit : gujaratmidday.com)

होने वाली बहू के साथ घूमने के लिए मुंबई से जबलपुर घूमने के लिए आई थी 53 वर्षीय महिला

जबलपुर के भेड़ाघाट में शुक्रवार को दोपहर 3:30 मिनट पर घाटकॉपर वेस्ट की गंगावाडी में राणे वाली हंसाबेन सोनी और उनके परिवरकी होने वाली पुत्रवधू 22 वर्षीय रिद्धी पीठडिया जो की नदी किनारे खड़े होकर सेल्फी ले रहे थे। अचानक ही पानी के एक जोरदार प्रवाह के बीच आकर दोनों पानी में बह गए। पानी में डूब जाने के कारण दोनों की मृत्यु हुई थी। दोनों की मौत की खबर सुनकर पूरे परिवार में मातम फ़ेल गया है।
विस्तृत जानकारी के अनुसार, 53 वर्षीय हंसाबेन और उनका पुत्र अपनी होने वाली बहू रिद्धी के साथ मुंबई से जबलपुर घूमने गए थे। इसके बाद सभी मिलकर भेदाघाट घूमने गए। दोपहर के करीब 3:30 मिनट पर जब हंसाबेन रिद्धी के साथ मिलकर एक खड़क पर खड़े होकर सेल्फी ले रहे थे, तभी पीछे से पानी का जोरदार प्रवाह आया, जिसमें दोनों का संतुलन बिगड़ा और वह नर्मदा नदी के पानी में गिर गए। घटना के बारे में बात करते हुये जबलपुर के तिलवारा पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने मीडिया से बात करते हुये बताया की स्थानीय तैराकों ने हंसाबेन के शव को तो तुरंत ही ढूंढ निकाला था, हालांकि उनकी होने वाली बहु का शरीर काफी दूर बह गया था। जिसके चलते वह उसे ढूंढ नहीं पाये थे। हालांकि दूसरे दिन सुबह रिद्धी की लाश पंचवटी घाट के पास से मिल आई थी।
रिद्धी के पिता और सोनी परीवार के सदस्य हंसाबेन और रिद्धी के शव को हासिल करने के लिए जबलपुर पहुंचे है। सोनी परिवार के करीबी अतुल ठक्कर के अनुसार, दोनों की लाश को एम्ब्युलंस में घाटकॉपर लाया जाएगा। जहां उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें