शोध : आम लोगों के मुकाबले लंबे समय तक जीते हैं हमारे नेता

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने अपनी हालिया रिसर्च में किया ये दावा

लंबी उम्र किसे नहीं पसंद? कौन ज्यादा समय तक नहीं जीना चाहता पर क्या आपने कभी सोचा कि जीवन का एक पड़ाव पार कर लेने के बाद राजनीती में आने वाले नेताओं की उम्र पर राजनीति का क्याा असर भी पड़ता है? इसका जवाब है किआम लोगों के मुकाबले नेता ज्या दा लम्बा  जीवन जीते हैं। यह दावा ऑक्सओफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने अपनी हालिया रिसर्च में किया है। 57 हजार से अधिक नेताओं पर शोध करने के बाद शोधकर्ताओं ने ये दावा किया है। इस आंकड़ें के अनुसार स्िे अटजरलैंड में आम लोगों के मुकाबले नेता की उम्र में 3 साल का अंतर था। वहीं, अमेरिका में यह आंकड़ा 7 साल है। न्यू जीलैंड और इटली में भी यहीं हाल रहा। रिसर्च में यह भी सामने आया है कि महिला नेता पुरुषों के मुकाबले औसतन ज्यायदा लम्बा  जीवन जीती हैं।
अब समझते हैं कि ऐसा कैसे हुआ। शोधकर्ताओं का कहना है, ऐसा होने की कई वजह हो सकती हैं। जैसे- 20वीं शताब्दीम की शुरुआत में समृद्ध और पेशेवर लोगों में स्मोाकिंग का चलन आम था, लेकिन 1950 के बाद के दशक में इनमें गिरावट दर्ज हुई। हर कोई जानता है कि धूम्रपान हृदय रोग जैसे कई घातक बीमारियों को बढ़ावा देता है। 1950 के दशक के बाद धूम्रपान के मामले घटे हैं। इसलिए इनमें स्मोककिंग के कारण बढ़ने वाले रोगों के मामलों में कमी आई। नतीजा, इनकी उम्र लम्बीा हुई। 
इस रिसर्च के अनुसार नेता आम लोगों के मुकाबले ज्याईदा बेहतर जीवन जीते हैं। रिसर्च के अनुसार 20 सदीं की शुरुआत तक दुनियाभर में अधिकांश नेताओं की उम्र सामान्यम आबादी के बराबर ही थी। 20वीं सदी के दौरान लाइफस्टारइल में अंतर आने के कारण यह अंतर सबसे बढ़ा। वहीं शोधकर्ताओं का कहना है, राजनेताओं की सैलरी औसत आबादी की तुलना में ज्यादा होती है, जिससे वे दीर्घायु और स्वास्थ्य रहते हैं।

(इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी loktej.com की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें