राहुल ने केरल में मछुआरों के साथ बिताए समय को बताया सपना सच होने जैसा

राहुल गांधी (Photo : IANS)

राहुल समुद्र किनारे स्थित गांव में पहुंचे और मछली पकड़ने की नाव पर सवार हो गए। जब वे लौटे तो उन्होंने कहा कि यहां मछुआरों के साथ समय बिताना लंबे समय से उनकी ख्वाहिश थी।

कोल्लम (केरल), 24 फरवरी (आईएएनएस)| कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बुधवार को केरल में मछुआरों के साथ एक नाव पर समुद्र में एक घंटे बिताने के बाद कहा कि यह उनके लिए सपना सच होने जैसा है। वह यहां के पास के समुद्र किनारे स्थित गांव में पहुंचे और मछली पकड़ने की नाव पर सवार हो गए। जब वे लौटे तो उन्होंने कहा कि यहां मछुआरों के साथ समय बिताना लंबे समय से उनकी ख्वाहिश थी। वायनाड के सांसद ने कहा कि वह यहां के नेताओं से कहते रहे हैं कि वे उनके लिए मछुआरों के साथ यात्रा करने की व्यवस्था करें।

उन्होंने कहा, "यह एसा अनुभव था जिसने मुझे सिखाया कि मछुआरे के लिए जीवन कितना कठिन है, जो समुद्र के साथ लड़ाई लड़ता है और अंत में इससे कोई और लाभ उठाता है।"  राहुल ने कहा कि समुद्र में जाल डाले जाने पर वह ढेर सारी मछली के जाल में फंसने की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने मछुआरों से कहा, "समुद्र में आपके साथ एक घंटा बिताने के बाद मेरे मन में आपके लिए सम्मान और बढ़ गया है क्योंकि आपका जीवन खतरों और जोखिम भरा है और भले ही हम सभी मछली खाते हैं, लेकिन आपके कठिन भरे जीवन के बारे में लोग ज्यादा नहीं सोचते।"


[(Photo : IANS)]


यह पूछे जाने पर कि मछुआरों के लिए उनकी क्या योजना है तो कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने इस सवाल का जवाब देते हुए, कहा कि जबकि किसानों के पास एक समर्पित मंत्रालय है, मछुआरों के पास नहीं है। उन्होंने कहा, "मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि हम आपकी आवश्यकताओं की देखभाल के लिए एक समर्पित मंत्रालय स्थापित करेंगे। मैं यह सुनिश्चित करने की पूरी कोशिश करूंगा कि आपके जीवन को कैसे आसान बनाया जा सके।"

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेतृत्व वाला यूडीएफ अब एक घोषणापत्र तैयार करने की प्रक्रिया में है। मैं इसे तैयार करने वाले लोगों से आपसे विस्तृत बातचीत करने के लिए कहूंगा कि आपको क्या चाहिए और इसे घोषणापत्र में शामिल किया जाएगा। उन्होंने एक विशेष मछुआरे के साथ अपनी बातचीत साझा की जो नाव पर उसके साथ था, जिसने उन्हें बताया कि वह अपने बच्चों को इस जोखिम भरे काम में नहीं डालेगा।

राहुल ने कहा, "हमारा घोषणापत्र यह देखेगा कि इस समुदाय को उचित शिक्षा सुविधाएं प्रदान की जाए। हम यह भी देखेंगे कि मछुआरों का जोखिम कम करने के लिए क्या किया जा सकता है।"  केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी रविवार से राज्य में हैं। केरल में अप्रैल/मई में विधानसभा चुनाव होने की संभावना है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें