कनाडा में मुस्लिम परिवार को शख्स ने ट्रक से कूचल दिया!

(Photo Credit : aajtak.in)

सड़क पर टहलने निकला था परिवार, नाबालिग लड़की सहित चारी लोगों की हुई मौत

केनेडा के ओंटेरियो में एक ट्रक ड्राइवर ने एक मुस्लिम परिवार के ऊपर ट्रक चढ़ा दी होने की घटना सामने आई थी। जिसमें परिवार के चार लोगों की मौत हो गई थी और 9 साल का एक बेटा गंभीर रूप से घायल है। पूरी घटना को हेत क्राइम बताते हुये केनेडा पुलिस ने बताया कि ट्रक ड्राइवर ने मुस्लिम होने के नाते जान-बूझकर उनको ट्रक के नीचे कुचल दिया था। घटन स्थानिक समय के अनुसार, रविवार को रात को सिटी ऑफ द लंदन इलाके में हुई थी। जो टोरेंटों से 200 किलोमीटर दूर है। 
विस्तृत जानकारी के अनुसार, रविवार को रात को 8:40 बजे मुस्लिम परिवार के पाँच सदस्य रास्ते के किनारे पर चल रहे थे। तभी अचानक एक पीक अप ट्रेन उनकी कुचलकर चली गई। घटना स्थल पर मौजूद एक महिला ने बताया कि शाम को जब वह 8:30 बजे के आसपास रेड लाइट पर खड़ी थी, तभी अचानक से उनके पास से एक पीकअप ट्रक गुजरी थी जो कि काफी तेजी से जा रही थी। इसके कुछ ही समय बाद उसने यह भयानक दृश्य देखा। जहां एक पुलिस अधिकारी व्यक्ति को छाती पर पंप कर उसे जिंदा रखने की कोशिश कर रहा था। जबकि अन्य तीन लोग रास्ते पर पड़े थे।   
सोमवार को केनेडा के मीडिया द्वारा इस घटना की जानकारी दी गई थी। पुलिस के अनुसार, मृतकों में दो महिला, एक पुरुष और एक नाबालिग लड़की शामिल है। मरने वालों में एक महिला की उम्र 77 साल जबकि दूसरी महिला की उम्र 44 साल है, जबकि पुरुष की उम्र 46 साल है। घटना में मृत्यु को प्राप्त हुई लड़की की उम्र मात्र 15 साल ही है। इस हमले में 9 साल का बालक भी काफी बुरी तरह से घायल हुआ था। मुस्लिम परिवार पर गाड़ी चलाने के आरोप में एक 20 साल के युवक को हिरासत में लिया गया है। जिसकी पहचान नाथेलियन वेल्टमेन के तौर पर हुई थी। 
नाथेलियन को घटना स्थल पर से 6 किलोमीटर दूर एक शॉपिंग सेंटर में से पकड़ लिया गया था। पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि आरोपी और परिवार का इसके पहले कोई संपर्क भी नहीं हुआ था। प्रधानमंत्री जस्टिन टूडॉ ने इस घटना को घृणा का कृत्य बताया था। उन्होंने ट्वीट कर के लंडन में रहने वाले मुस्लिम समुदाय को संबोधित करते हुये कहा कि इस समय वह उनके साथ है। इस्लामोफोबिया के लिए उनके समाज में कोई जगह नहीं है। यह घटना काफी घातक और निंदनीय है और ऐसी घटना हर हाल में रुकनी चाहिए। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें