मध्यप्रदेश: कोरोना वैक्सीन लगवाने को लेकर केंद्र पर महिलाओं ने किया जमकर हंगामा, जमकर की मारपीट

(Photo Credit: twitter.com/Ramholkar_)

मध्य प्रदेश के खरगोन जिले के कसरावद तहसील के खलबुजुर्ग गांव में घटी ये घटना

कोरोना महामारी ने बीते डेढ़ साल से देश की हालत गंभीर बना रखी है। ऐसे में कोरोना के संक्रमण को रोकने और पहले जैसी स्थिति लाने के लिए सरकार टीकाकरण अभियान पर जोर दिया है। 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण बहुत पहले ही शुरू हो गया था। इसके बाद 18 से 45 साल वालों के लिए भी टीकाकरण अभियान शुरू किया गया। देशभर के सभी राज्यों में अलग अलग स्थानों पर टीकाकरण की व्यवस्था की गई है। हालांकि अब टीकाकरण स्थलों पर कुछ अव्यवस्था देखी जा रही है। स्थलों पर लोगों की लंबी लाइन देखी जा सकती है। खासकर ग्रामीण स्थलों पर टीकाकरण को लेकर लोगों में जबरदस्त मारामारी हो रही है। हालांकि टीकाकरण अभियान को लेकर लोगों में खूब उत्साह देखा जा रहा है, पर टीकाकरण स्थल पर जमा होने वाली भीड़ कई बार प्रशासन के लिए मुश्किलें भी पैदा कर रही है। 
ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश के खरगोन जिले के एक कोविड टीकाकरण सेंटर पर देखा गया। खरगोन के कसरावद तहसील के एक गांव के टीकाकरण स्थल पर वैक्सीन को लेकर महिलाएं आपस में भिड़ गई हैं और उन्होंने खूब मारपीट हुई। कई महिलाएं आपस में ही मारामारी करने लगी। एक महिला को तो चोटी पकड़कर ऐसे खींचा की वो दूर जाकर गिरी। इस दौरान खूब हंगामा हुआ।
जानकारी के अनुसार, जिला मुख्यालय से 40 किलोमीटर दूर स्थित कसरावद तहसील के खलबुजुर्ग गांव में घटित इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। टीके लगवाने के लिए वहां जबरदस्त मारामारी मची। एक-दूसरे के आगे निकलने की होड़ में महिलाएं शारीरिक दूरी छोड़कर आपस में ही भिड़ गईं। इस बारे में खरगोन के जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. संजय भट्ट ने बताया कि जिस केंद्र पर ये घटना हुई है वहां 500 से ज्यादा महिलाएं पहुंच गई थीं। दिक्कत की बात ये थी कि केंद्र पर वैक्सीन की 200 खुराक ही थीं। हालांकि डॉ. भट्ट ने यह भी कहा कि जिले में टीके की कोई किल्लत नहीं है। स्लॉट बुक करने के बाद लोगों को टीके लगाए जा रहे हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें