जानें आखिर क्यों अमेरिका से चीन जा रही फ्लाइट को बीच में ही आना पड़ा वापिस

डेल्टा एयरलाइंस का विमान

चीन में होने वाले विंटर ओलिम्पिक के तहत सरकार द्वारा लिए जा रहे है कडक कदम

अमेरिका से चीन के शांघाई शहर जाने वाली फ्लाइट को हवा में से ही वापिस आने की घटना को काफी चर्चा हो रही है। कहा जा रहा है डेल्टा एयरलाइंस के इस विमान में महामारी से संबंधित स्वच्छता जरूरतों का पालन नहीं किया गया है। इसके चलते फ्लाइट को शांघाई में लैंड करने की अनुमति नहीं दी गई थी। इस घटना को लेकर चीनी कोन्स्युलेटने सान फ्रांसिस्को में अपना विरोध व्यक्त किया था। इसके पहले ही कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुये चीन आने वाली कई फ्लाइट्स को रद्द कर दिया गया है। 
चीन में फरवरी 2022 में आयोजित होने वाले विनतर ओलिम्पिक के पहले देश में महामारी को रोकने का प्रयास किया जा रहा है। चीन में कई सरकारी ओथोरीटी द्वारा कई फ्लाइट्स कैंसल कर दी गई है और आने-जाने पर भी आंशिक प्रतिबंध लगा दिया गया है। 
प्रतिकात्मक तस्वीर
मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि अमेरिका से आने वाली फ्लाइट में सवार यात्रियों के कोविड-19 टेस्ट रिजल्ट एक्सपीरे हो गए थे और इसी के चलते प्लेन को आधे से ही वापिस होना पड़ा था। रिपोर्ट्स के अनुसार विश्वभर में कोरोना वायरस के भय के कारण 4500 से अधिक फ्लाइट्स कैंसल कर दी गई है।
इसके अलावा ताइवान से शांघाई आने वाले विमानों की संख्या को भी डिसइन्फेक्शन प्रोसीजर के तहत कम कर दिया गया है। कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के तेजी से दुनियाभर में फ़ेल रहे संक्रमण के कारण कई देशों में फिर से एक बार विभिन्न प्रतिबंध लगा दिये गए है। बता दे की क्रिसमस के दिन दुनियाभर में तकरीबन 2800 से अधिक फ्लाइट्स कैंसल की गई है, जबकि 11 हजार से अधिक फ्लाइट्स देर हुई थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें