क्या सच में तालिबान में शामिल हो गया है यह भूतपूर्व अफगान क्रिकेटर, तस्वीरें सोशल मीडिया पर हो रही है वायरल

(Photo Credit : twitter.com)

अफगानिस्तान बोर्ड के प्रमुख ने की स्पष्टता, तालिबानियों को काफी पसंद है क्रिकेट

अफगानिस्तान में तालिबानों द्वारा कब्जे में लेने के बाद से ही आए दिन में से खतरनाक घटनाएँ सामने आती रहती है। तालिबान की नापाक हरकतें आए दिन सभी के सामने आती रहती है। हालांकि इसी बीच अफगानिस्तान की नजर अब अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर पड़ी होने की जानकारी सामने आई है। सबसे चौंकाने वाली बात तो यह है कि अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ हामिद शीनवारी ने स्पष्टता कि है कि तालिबानी क्रिकेट पसंद करते है और उनसे खेल को कोई नुकसान नहीं है। पर इसी बीच एक तस्वीर सामने आई है, जिससे काफी सवाल खड़े हुये है। 
अफगानिस्तान के क्रिकेट बोर्ड के पूर्व मीडिया मैनेजर और पत्रकार इब्राहिम मोहम्मद ने ट्विटर पर एक फोटो शेयर किया है। इस तस्वीर में बंदूक के साथ कुछ तालिबानी एक हॉल में खड़े दिखाई देते है। यह हॉल अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड का मुख्यालय है। इस तस्वीर को शेयर करते हुये इब्राहिम मोहम्मद ने इस बात कि जानकारी दी है। इस तस्वीर में अफगानिस्तान के पूर्व क्रिकेटर अब्दुल्लाह मजारी भी तालिबानों के साथ मौजूद है। साल 2010 में अफगानिस्तान के लिए क्रिकेट में पदार्पण करने वाले मजारी ने 2 वन-डे भी खेली है। इसके अलावा उसने 21 फर्स्ट क्लास, 16 लिस्ट A और 13 टी-20 मैच भी खेली है। 
अफगानिस्तान की हाल की स्थिति को देखते हुये हर क्रिकेट फैंस के मन में मात्र एक ही सवाल आ रहा है कि क्या इस साल के आईपीएल में खेल पाएंगे। इस बारे में पूछने पर बीसीसीआई से जुड़े एक सूत्र ने कहा कि इस बारे में अभी कोई भी प्रतिक्रिया देना अभी काफी जल्दी होगा, हालांकि पूरी स्थिति पर अभी भी उनकी नजर बनी हुई है। आशा है कि राशिद खान, मोहम्मद नबी और बाकी के खिलाड़ी भी आईपीएल में खेल सकेगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें