IPL2021 : पहले ही मैच में दिल्ली कैपिटल्स की भव्य जीत के बाद कप्तान पंत की तारीफ में पृथ्वी शॉ ने ये कहा

भारतीय क्रिकेटर पृथ्वी शॉ (Photo : IANS)

शॉ ने कहा - ऋषभ पंत बहुत स्मार्ट है, वह निडर है और खेल का आनंद लेता है

मुम्बई, 11 अप्रैल (आईएएनएस)| दिल्ली कैपिटल्स टीम के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने शनिवार को यहां आईपीएल-14 मुकाबले में अपनी टीम की चेन्नई सुपर किंग्स पर सात विकेट से जीत में अहम भूमिका निभाई। यह बतौर कप्तान ऋषभ पंत का पहला मैच था। शॉ ने कहा कि उनकी टीम को नियमित कप्तान श्रेयस अय्यर की कमी खली लेकिन पंत एक बेहतरीन कप्तान हैं।
सीएसके के खिलाफ मैच में दिल्ली के नवनियुक्त कप्तान पंत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। उनकी टीम उनके गुरू रहे महेंद्र सिंह धोनी की सुपर किंग्स को 188 रनों पर रोकने में सफल रही और फिर शिखर धवन (85 रन, 54 गेंद,10 चौके, 2 छक्के) तथा शॉ (72 रन, 38 गेंद, 9 चौके, 3 छक्के) के बीच पहले विकेट के लिए हुई 138 रनों की साझेदारी के दम पर सात विकेट से जीत दर्ज की।
शॉ ने मैच के बाद कहा, "हम वास्तव में श्रेयस अय्यर को याद कर रहे हैं। उन्होंने टीम का बहुत अच्छा नेतृत्व किया। हालांकि, ऋषभ पंत बहुत स्मार्ट हैं। वह निडर है और खेल का आनंद लेता है। वह मैदान पर बहुत मनोरंजक है और एक कप्तान के रूप में बहुत शांत है। वह टीम के लिए शानदार काम कर रहे हैं।"
आस्ट्रेलिया में खराब प्रदर्शन के बाद भारतीय टीम से निकाले गए शॉ ने कहा कि अभी वह भारतीय टीम में वापसी के बारे में नहीं सोच रहे हैं। इससे पहले शॉ ने विजय हजारे ट्राफी में शानदार प्रदर्शन करते हुए चार शतक लगाए। अब शॉ ने आईपीएल के इस सीजन के पहले ही मैच में शानदार अर्धशतक जड़ा है।
शॉ ने कहा, "मैं अभी भारतीय टीम के बारे में अधिक नहीं सोच रहा क्योंकि टीम से निकाला जाना सचमुच काफी निराशाजनक था। मैं उससे आगे बढ़ गया हूं। मैंने मान लिया है कि मेरी बैटिंग तकनीक में कमी है और मुझे सबसे पहले उसे सुधारना है। मुझे इस पर काम करते हुए अपने आप में सुधार लाना है। इसके लिए मैं किसी तरह का बहाना नहीं बना सकता।"
दिल्ली की टीम बीते सीजन में फाइनल तक पहुंची थी जबकि सुपर किंग्स प्लेऑफ में भी नहीं पहुंच सके थे। दिल्ली के खिलाफ धोनी का व्यक्तिगत प्रदर्शन भी निराशाजनकर रहा। वह दो गेंदें खेलकर खाता खोले बगैर पवेलिटन लौटे।
अपनी वापसी वाली पारी के बारे में पृथ्वी शॉ ने कहा, " हमने जो प्लान बनाया, उस पर अमल भी किया। ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद ड्रॉप होने के बाद मैं प्रवीण (आमरे) सर के पास गया। अपनी बैटिंग पर चर्चा की और फिर घरेलू मैच खेले, जिसका मुझे फायदा हुआ। मुझे बहुत खुशी है कि मैं वापसी कर सका। मेरी बैटिंग में जो भी कमी है, मैं उस पर काम कर रहा हूं।"

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें