साइकिल से गिरे बुजुर्ग को मदद करने की बजाए मोबाइल सरका लिया, फिर ये हुआ!

(Photo : IANS)

ब्रिज से जाते वक्त दो गाड़ियों ने मारी थी साइकिल को कट, संतुलन बिगड़ने से गिर गए थे बुजुर्ग

देशभर में जबसे कोरोना महामारी ने आकार लिया है, तभी से चोरी और तस्करी के किस्से कई ज्यादा सामने आ रहे हैं। चोरी की एक और घटना अहमदाबाद के रानीप इलाके से सामने आई है, जहां एक बुजुर्ग के पास से चोर ने मोबाइल फोन चोरी कर लिया।
विस्तृत जानकारी के अनुसार शहर के साबरमती इलाके में रहने वाले रामसेवक राठौड़ शाहपुर में सोडा की लारी पर चलते हैं। उनकी पुत्री अन्य जगह काम करती थी। इस कारण उसके सेठ ने उसे एक फोन दिया था, जिसका इस्तेमाल रामसेवक करते थे। पिछली 6 मार्च को लारी बंद कर जब वह अपने घर पर जा रहे थे, तभी साइकिल लेकर जैसे ही वह सुभाष ब्रिज सर्कल पर पहुंचे। दो बाइक सवार लोगों ने रामसेवक की साइकिल को कट मारा, जिसके कारण उन्होंने अपना संतुलन खोया और वह रोड पर गिर गए। 
इसी समय वहां से निकल रहे एक युवक ने रामसेवक को देखा और उनसे जाकर पूछा कि कहीं उन्हें चोट तो नहीं लगी। हालांकि रोड पर गिरने के कारण रामसेवक का दिमाग काम नहीं कर रहा था जिसके कारण उन्होंने युवक को कहा कि वह ठीक है और आगे खुद ही चले जाएँगे। जिसके बाद वह घर गए, पर घर पहुँचने के बाद उन्हें जेब में अपना फोन नहीं मिला। रामसेवक को लगा कि जब वह गिरे थे तब शायद उनका फोन गिर गया होगा। हाल्ङ्कि कुछ समय के बाद चाँदखेड़ा पुलिस स्टेशन से उनके लिए फोन आया कि उनका फोन एक चोर के पास से मिला है। 
यह चोर वही युवक था जिसने ब्रिज पर रामसेवक को उनकी चोट के बारे में पूछा था। रामसेवक कि खराब हालत के कारण उसने मौके का फायदा उठाया और उन्हें चकमा देकर उनका फोन चुरा लिया था। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें