भारतीय रेलवे द्वारा मिलेगी अब जापान और अमेरिका जैसी आलीशान सुविधा, मुंबई स्टेशन पर खुला पहला पॉड होटल; जानें क्या है खास

जापान से शुरू हुये पॉड होटल आज दुनिया भर में है काफी मशहूर, केंद्रीय रेल राज्य मंत्री रावसाहेब दानवे ने किया डिजिटल तरीके से उद्घाटन

भारतीय रेल द्वारा मुंबई सेंट्रल रेलवे पर अपना पहला पॉड होटल शुरू कर दिया है। यात्रा की थकान उतारने के लिए मनाए गए इस तरह के पॉड होटल की अमेरिका और जापान जैसे देशों में काफी मांग है। आधुनिक सुविधाओं से सज्ज इस केपस्यूल रूम वाले होटल के लिए मात्र 999 रुपए से किराया शुरू हो रहा है। भारतीय यात्रियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुये यह किराया काफी कम रखा गया है।
भारतीय रेलवे के पहले पॉड होटल का उद्घाटन बुधवार को केंद्रीय रेल राज्य मंत्री रावसाहेब दानवे ने दक्षिण मुंबई के चर्चगेट स्टेशन से डिजिटल तरीके से किया. मंत्री ने वीडियो लिंक के माध्यम से विभिन्न यात्री सुविधाओं का भी उद्घाटन किया। रेलवे द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, प्राइवेट पॉड का किराया 1249 से ल्केयर 2499 तक का है। यदि आप किसी भी तरह की शॉर्ट ट्रिप पर जा रहे है या बच्चों के साथ घूमने जा रहे तो यह होटल उसके लिए काफी अच्छा है। रेल मंत्रालय द्वारा अपने सोशल मीडिया पेज पर भी इसकी तस्वीरें शेयर की गई है। IRCTC द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, मुंबई सेंट्रल टर्मिनस के पहले माले पर आए इस पॉड में कुल मिलाकर 48 रूम है। इन रूम की लंबाई 7 फिट जबकि चौड़ाई और ऊंचाई 4 फिट है। इस तरह के होटल की शुरुआत जापान में हुई थी। इसके बाद जापान सहित रशिया, यूएस, यूके,  नेधरलेंड्स, सिंगापोर और मलेशिया में इस तरह के कई पॉड होटल बने है। हालांकि भारत में अब तक इस तरह की यह पहली होटल है।
पॉड होटल में कैप्सूल वाले कमरे हैं और यह सभी वातानुकूलित कमरे हैं। पॉड होटल वर्तमान में अलग-अलग कीमतों और सुविधाओं के साथ चार श्रेणियों में बांटा गया है। जिसमें क्लासिक पॉड्स, एक्सक्लूसिव लेडीज़ पॉड्स और स्युटेड पोड्स शामिल है, उनकी श्रेणी के आधार पर ही इनकी कीमत तय की जाती है। 
आईआरसीटीसी ने ओपन टेंडर के आधार पर 9 साल के लिए पीओडी कॉन्सेप्ट रिटायरिंग रूम की स्थापना, संचालन और प्रबंधन का ठेका दिया है। यह साइट मुंबई सेंट्रल रेलवे स्टेशन की इमारत की पहली मंजिल पर है। यह 3000 स्क्वायर फीट में बना है। कैप्सूल रूम पहले से काम कर रहे रेलवे रेस्ट रूम या डॉरमेट्री का एक आधुनिक और कॉम्पैक्ट संस्करण है। रेलवे के रिटायरिंग रूम एसी या नॉन एसी हैं, लेकिन मुंबई में शुरू हुए ये सभी कैप्सूल रूम सेंट्रल एसी वेंट से जुड़े हैं। उसका बिस्तर रिटायरिंग रूम की तुलना में अधिक आरामदायक है, और प्रत्येक कमरे में एक टीवी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें