भारतीय रेलवे: कोरोना के कारण लम्बे समय से बंद ये सुविधा फिर से हो रही है शुरू

ट्रेनों में फिर से पैक किया हुआ खाना शुरू करने जा रहा विभाग

पिछले साल मार्च में कोरोना के शुरू होने के साथ बहुत कुछ बदल गया। इस दौरान पहले रेल सेवा और फिर रेलवे द्वारा मिलने वाली बहुत सी सुविधाएँ बंद हो गई। ऐसे में अब इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) ट्रेनों में फिर से पैक किया हुआ खाना शुरू करने जा रहा है। पिछले साल मार्च में कोरोना के कारण आईआरसीटीसी ने ट्रेनों में पैक्ड फूड की सुविधा बंद कर दी थी। कोरोना के दौरान करीब 15 महीने में पहली बार ट्रेनों में यह सुविधा शुरू की जाएगी। तेजस एक्सप्रेस में पैक खाना दिया जाएगा।
गौरतलब है कि आईआरसीटीसी अगले महीने से दिल्ली-लखनऊ और अहमदाबाद-मुंबई दोनों रूटों पर तेजस एक्सप्रेस चलाने की तैयारी कर रही है। आईआरसीटीसी ने यह फैसला कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए लिया है। देश में लॉकडाउन लागू होने के बाद ट्रेन ये सेवा को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था। हालांकि मई 2020 में ट्रेनों का परिचालन फिर से शुरू हुआ इस दौरान आईआरसीटीसी ने तब यात्रियों की सुविधा के लिए ट्रेनों में रेडीमेड खाना उपलब्ध कराना शुरू किया, जो कारखानों से ही पैक होकर आते हैं।
आपको बता दें कि आईआरसीटीसी फिलहाल करीब 1000 ट्रेनों में रेडीमेड खाना मुहैया करा रही है। हालांकि प्री-कोविड समय में यह संख्या करीब 2500 थी। धीरे-धीरे यह संख्या बढ़ती ही जा रही है। आईआरसीटीसी अगले महीने से दोनों रूटों पर तेजस एक्सप्रेस शुरू करने जा रही है। ये ट्रेनें पैक्ड फूड उपलब्ध कराने के लिए तैयार हैं। दोनों ट्रेनों में पहले की तरह कोरोना प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए खाना उपलब्ध कराया जाएगा। 
आईआरसीटीसी के मुताबिक तेजस की बुकिंग भी जल्द शुरू होगी। हालाँकि दोनों ट्रेनें निजी हैं और आईआरसीटीसी द्वारा संचालित की जा रही हैं इसलिए इन ट्रेनों से पैक्ड फूड की डिलीवरी शुरू की जा रही है। इन ट्रेनों में यात्रियों के पैक्ड फूड पर प्रतिक्रिया देखते हुए इसे अन्य ट्रेनों में भी पेश किया जा सकता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें