टोक्यो जा रहा है भारत का सबसे बड़ा ओलंपिक दल, इन खिलाड़ियों से है मेडल की उम्मीद

(Photo Credit : dnaindia.com)

पीवी संधु, विनय फोगाट, दीपिका कुमारी जैसे स्टार खिलाड़ियों से मेडल जीतने की आशा

23 जुलाई से जापान की राजधानी टोक्यो में खेलों के सबसे बड़े पर्व ओलंपिक का आयोजन शुरू होने जा रहा है। खेलों के इस सबसे बड़े पर्व के शुरू होने को लेकर सभी देशों ने अपनी टीमों को टोक्यो भेजना शुरू कर दिया है। सभी देश ओलंपिक में अधिक से अधिक मेडल लाने के लिए प्रयास करेंगे। ऐसे में भारत द्वारा भी हर संभव प्रयास किया जा रहा है, वह भी मेडल की इस रेस में सभी से आगे आ सके। भारत द्वारा इस बार ओलंपिक के इतिहास में अपनी सबसे बड़ी टीम भेजी जा रही है। 100 से भी अधिक एथलीट्स के इस टीम में से कईयों से मेडल की उम्मीद की जा रही है। 
विभिन्न खेलों के स्टार खिलाड़ी जैसे की बजरंग पुनिया, दीपिका कुमारी, पीवी संधु और विनेश फोगाट से मेडल की आशा रख रहा है। हालांकि इसके पहले कल ओलंपिक दलों में शामिल खिलाड़ियों के साथ हुई एक मीटिंग में प्रधानमंत्री मोदी ने सभी खिलाड़ियों को अपेक्षाओं के बोज तले ना दबने की सलाह तो दी है, पर भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले किसी भी खिलाड़ी पर तकरीबन 140 करोड़ की प्रजा की अपेक्षाओं का बोज होगा ही, यह स्वाभाविक है। 
भारत द्वारा दीपिका कुमारी से तीरंदाजी में एक मेयल की सबसे ज्यादा उम्मीद है। पिछले काफी समय से उम्दा प्रदर्शन कर रही, दीपिका अपना प्रदर्शन ओलंपिक में भी दोहराएगी, ऐसी सभी को आशा है। इसके अलावा मेंस इवेंट में भी भारत को मेडल मिलने की आशा है। मेंस इवेंट में तरुणदीप राय, अतनु दास, प्रवीण जाधव भी शामिल होगे। 
हर बार भारत का कमजोर पक्ष रहे एथलीट्स में भी भारत इस बार अच्छा प्रदर्शन करने की आशा रख रहा है। जेवलीन थ्रो में नीरज चोपड़ा और शिवपाल सिंह जैसे खिलाड़ियों ने भारत की उम्मीदों को बरकरार रखा है। इसके अलावा मोहम्मद अनस और दुत्ती चंद जैसे खिलाड़ी भी भारत को मेडल दिला सकते है। इस बार एथलीटस में भारत की तरफ से केटी इरफान, संदीप कुमार, भावना तथा प्रियंका गोस्वामी 20 किलोमीटर रेस वॉक में हिस्सा लेंगे, जबकि गुरप्रीत सिंह 50 किलोमीटर रेस वॉक में हिस्सा लेंगी। नीरज चोपड़ा, शिवपाल सिंह तथा अनु रानी जेवलीन थ्रो में हिस्सा लेंगे। जबकि कमलप्रीत कौर तथा सीमा पुनिया डिस्कस थ्रो में हिस्सा लेंगे।  
अश्विनाश सबले 300 मीटर स्टैपल चेस, मुरली श्रीशंकर लॉन्ग जंप में, एमपी जयबीर 400 मीटर हर्डल रेस में, तेंजंद्रपाल सिंह शॉट पुट में तथा दुत्ती सिंह 100 तथा 200 मीटर रेस इवेंट में हिस्सा लेकर भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। रियो ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रचने वाली पीवी संधु से भी इस बार लोगों की गोल्ड मेडल जीतने की आस लगी हुई है। पीवी संधु के अलावा बी साई और सिक्कि रेड्डी तथा चिराग सेट्ठी(डबल्स) की टीम भी मेडल जीतने के प्रयास करेगी। 
बोक्सिंग के इलाके में पिछले कुछ समय से भारत ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है। भारत स्टार बोक्सिंग खिलाड़ी मैरीकॉम और अमित पंघाल से भी मेडल की उम्मीद रख सकता है। विभिन्न वेट केटेगरी में भारत महिला और परूष टीम के विभिन्न बोकसर्स प्रतिद्वंदी को धूल चटाने के लिए मैदान में उतरेंगे। जिसमें मैरीकॉम (51 किलोग्राम), विकास कृष्णा (69 किलोग्राम), लवलीना (69 किलोग्राम), आशीष कुमार (75 किलोग्राम), पूजा रानी (75 किलोग्राम), सतीश कुमार (91 किलोग्राम), अमित पंघाल (52 किलोग्राम), मनीष कौशिक (63 किलोग्राम) और सिमरनजीत (60 किलोग्राम) में मुक़ाबला करेंगे।  
इन सभी के अलावा भारत पहली बार भवानी देवी के साथ फेंसिंग में हिस्सा लेगा। जबकि गोल्फ में भी भारत और मेंस और वुमेन दोनों केटेगरी में हिस्सा लेगा। जिसमें अनिर्बान लहरी, उद्यन मने और अधिति अशोक हिस्सा लेगे। जबकि इस बार प्रणति जीमनास्ट में हिस्से लेगी। सुशीला देवी द्वारा भारत 48 किलोग्राम कैटेगरी में जूडो में हिस्सा लेगा। अर्जुन और अरविंद सिंह रोइंग में भारत की और से क्वालिफाई करने में कामयाब हुये है। इन सबके अलावा भारत की पुरुष और महिला हॉकी टीम तथा शूटिंग में शामिल खिलाड़ी भी भारत को मेडल दिलाने का पूरा प्रयास करेंगे। 
इस साल भारत की और से 15 शूटर क्वालिफ़ाई करने में कामयाब हुये है। जिसमें अंजुम मोदगिल, अपूर्व चेंदला, दिवयांश सिंह, दीपक कुमार, मनु भाकर, यशस्विनी सिंह, सौरव चौधरी, अभिषेक वर्मा 10 मीटर, राही तथा चिंकी यादव 25 मीटर और तेजस्विनी सावंत, संजीव राजपूत, ऐश्वर्या प्रताप 50 मीटर तथा अंगद वीर सिंह और मिराज सिंह स्कीट में हिस्सा लेंगे।   
भारत की और से टेबल टेनिस में भी चार खिलाड़ी क्वालिफ़ाई करने में कामयाब हुये है। शरथ कमल, साथियान, सुतीर्था मुखर्जी और मनिका बतरा में से भारत को शरथ और मनिका से मेडल जीतने की उम्मीद है। टेनिस के बाद सानिया मिर्जा और अंकिता रैना की जोड़ी ओलंपिक में हिस्से लेंगी। मिराबाई चानु जो की वेटलिफ्टिंग में वर्ल्ड नंबर टू भी मेडल जीतने के लिए फेवरेट मानी जा रही है। ओलंपिक में भारत की और से सात खिलाड़ी हिस्सा लेंगे, जिसमें सीमा बिस्ला (50 किलोग्राम), विनेश फोगाट (53 किलोग्राम), अंशु मलिक (57 किलोग्राम), सोनम मलिक (62 किलोग्राम), रवि कुमार दहिया (57 किलोग्राम), बजरंग पुनिया (65 किलोग्राम) और दीपक पुनिया (86 किलोग्राम) शामिल है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें