भारत-इंग्लैंड पांचवां टेस्ट : कप्तान बनते ही जमकर बोला जसप्रीत का बल्ला, स्टुअर्ट ब्रॉड को दिला दी युवराज की याद

एक ओवर में बनाए 35 रन, टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सबसे मंएकहगा ओवर, 2007 में युवराज ने स्टुअर्ट ब्रॉड की ओवर में लगाएं थे छह छक्के

भारत और इंग्लैंड के बीच चल रहे 5वें टेस्ट में भारत की पकड़ मजबूत होती नजर आ रही है। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 416 रनों के स्कोर बनाया। भारत की ओर से ऋषभ पंत और रविन्द्र जड़ेजा ने शानदार शतक लगाया। पर मैच में आकर्षण का केंद्र बने कार्यवाहक कप्तान जसप्रीत बुमराह। जसप्रीत ने कप्तान बनते ही बल्ले से कोहराम मचा दिया है। जड़ेजा के जाने  के बाद जल्द सिमट रही टीम को कप्तान जसप्रीत बुमराह ने एक ही ओवर में संभाल लिया। कप्तान ने 16 गेंद पर नाबाद 31 रन बनाकर स्कोर को 400 रन के पार पहुंचाया। उन्होंने तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में 35 रन बटोरे।
आपको बता दें कि यह ओवर टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का सबसे महंगा ओवर रहा। इसमें बुमराह ने 4 चौका और 2 छक्का लगाया। इससे पहले ब्रायन लारा ने 2002 में साउथ अफ्रीका के आर पीटरसन के खिलाफ एक ओवर में 28 रन बटोरे थे। वहीं 2013 में जॉर्ज बेली ने भी जेम्स एंडरसन के ओवर और 2020 में केशव महाराज ने जो रूट के ओवर में 28 रन बटोरे थे। जसप्रीत बुमराह ने 84वें ओवर की पहली गेंद पर हुक करके 4 रन बटोरे. दूसरी गेंद वाइड रही और इस पर 4 रन भी गए। दूसरी गेंद पर बुमराह ने फिर हुक करके छक्का बटोरा। यह गेंद नोबॉल थी।बअगली 3 गेंद पर बुमराह ने ब्रॉड पर लगातार 3 चौके जड़े। 5वीं गेंद पर बैकवर्ड स्क्वॉयर लेग पर छक्का जड़ा। अंतिम गेंद पर एक रन लिया। इस तरह से ओवर में कुल 35 रन बने। ब्रॉड ने ओवर में कुल 8 गेंद डाली. बुमराह पहली बार टीम की कप्तानी कर रहे हैं। ये पहली बार नहीं जब ब्रॉड की ओवर में किसी भारतीय बल्लेबाज ने जमकर पिटाई की हो। इससे पहले 2007 में पहले टी20 विश्व कप में युवराज सिंह ने ब्रॉड की एक ओवर में छह छक्के जड़े थे। 
मैच की बात करें तो दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड ने अपने पांच बल्लेबाज खो दिए है। जबकि बोर्ड पर सौ से भी कम रन टंगे है। बरसात के कारण बार बार बाधित मैच में इंग्लैंड में 84 रन बनाएं है। भारत की ओर से जसप्रीत ने 3 और मोहम्मद सिराज और मोहम्मद शमी ने 1-1 विकेट चटकाए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें