यदि आप कोरोना मरीज़ के सम्पर्क में आये हैं तो ये खबर पढ़ लें, जान लें आपको क्या करना है!

सूरत में स्वास्थ विभाग की टीम द्वारा कोरोना टेस्टींग बढाई

होम आइसोलेशन के बाद डिस्चार्ज किए गए मरीजों या कोविड -19 फैसिलिटी से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों का टेस्टिंग करने की आवश्यकता नहीं

इस समय देश कोरोना की तीसरी लहर से जूझ रहा है। देश में हर बीते के साथ कोरोना संक्रमित मामलों की संख्या में बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। अब कोरोना और ओमिक्रॉन के बढ़ते संक्रमित मामलों के बीच इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने कोविड सैंपल के टेस्टिंग को लेकर बड़ा बयान जारी किया है। काउंसिल द्वारा प्रस्तुत किये गये ताजा दिशा-निर्देश के अनुसार कोविड मरीजों के संपर्क में आये व्यक्ति को अत्यंत आवश्यकता के बाद ही टेस्टिंग की आवश्यकता है। जब तक उन्हें उम्र या कॉमरेडिडिटी के आधार पर हाई रिस्क के रूप में पहचाना नहीं जाता है तब तक उन्हें टेस्टिंग की आवश्यकता नहीं है।
आपको बता दें कि आईसीएमआर द्वारा प्रस्तुत बयान में के अनुसार होम आइसोलेशन के बाद डिस्चार्ज किए गए मरीजों या कोविड -19 फैसिलिटी से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों का टेस्टिंग करने की आवश्यकता नहीं है। साथ ही आईसीएमआर ने कहा कि जो खांसी, बुखार, गले में खराश या स्वाद या गंध की कमी और अन्य कोविड लक्षणों जैसे लक्षणों से पीड़ित है उन्हें टेस्टिंग करने की आवश्यकता है। साथ ही इसमें ये भी कहा गया है कि जो व्यक्ति 60 साल अधिक उम्र के हैं या जिन्हें मधुमेह, उच्च रक्तचाप, फेफड़े या गुर्दे की बीमारी आदि जैसी बीमारियां हैं, उनका भी टेस्टिंग करने की आवश्यकता है। वहीं आंकड़ों की बात करें तो इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के अनुसार रविवार को देशभर में 13.52 लाख सैंपल की जांच की गई। देश में महामारी की शुरुआत के बाद अब तक 69.16 करोड़ से ज्यादा सैंपल की जांच हो चुकी है।साथ ही संस्था ने कहा कि अस्पताल द्वारा टेस्टिंग की कमी के लिए किसी भी आपातकालीन प्रक्रिया में देरी नहीं की जानी चाहिए। इस बात को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखकर कहा कि आवश्यकता पड़ने पर कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर्स रात 10 बजे तक खोले जा सकते हैं।
कोरोना संक्रमित मामलों की बात करें तो पिछले 24 घंटों में देश भर में 1,79,723 नए मामले सामने आये है. कल के मामलों के साथ  देश में कुल मामलों की संख्या 3,57,07,727 हो गई है। साथ ही इस समय सक्रिय कोरोना संक्रमित मामलों की संख्या 7,23,619 हैं। बीते 24 घंटे में 146 लोगों की कोरोना से मौत के साथ अब तक देश में कोरोना से 4,83,936 लोगों की मौत हो चुकी है। बीते 24 घंटों में  46,569 लोग ठीक हुए और इसी के साथ अब तक 3,45,00,172 लोग ठीक हो चुके हैं। कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 1,51,94,05,951 हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें