गुजरात : साबरकांठा में चौंकाने वाली घटना, जमीन खोदने के बाद जिंदा मिली नवजात बच्ची

प्रतिकारात्मक तस्वीर

खेत के मालिक ने जमीन में कुछ हिलता हुआ देखा तो वहां जाकर खुदाई की

हिम्मतनगर में एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। हिम्मतनगर के गंभोई गांव में जीईबी कार्यालय के पास खेत में एक अज्ञात व्यक्ति ने जिंदा नवजात शिशु को खेत में दफना दिया। खेत के मालिक ने जमीन में कुछ हिलता हुआ देखा तो वहां जाकर खुदाई की। जहां से नवजात बच्ची जिंदा मिली। खेत मालिक की सूझबूझ से इस नवजात बच्ची को बचा लिया गया। अब नवजात बच्ची को इलाज के लिए सिविल अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है। बच्ची को सांस लेने में दिक्कत होने के कारण बीवीएम से कृत्रिम सांस दी गई।
इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार यह दिल दहला देने वाली घटना साबरकांठा के हिम्मतनगर के गंभोई गांव में जीईबी कार्यालय के बगल के खेत में हुई। खेत के मालिक ने देखा कि खेत में कुछ मिट्टी हिल रही है। इसलिए उसने धीरे-धीरे खेत की मिट्टी खोद दी। खुदाई के दौरान मिट्टी ताजा दिख रही थी। लोगों ने नवजात को बाहर निकाला और 108 की टीम बुलाई गई। जिसके बाद नवजात को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। बच्ची को सांस लेने में भी दिक्कत हो रही थी इसलिए उसे कृत्रिम सांस भी दी गई। 
इस घटना के बाद से ग्रामीणों में गुस्सा है कि कोई इस लड़की को ऐसे कैसे दफना सकता है? फिलहाल गंभोई पुलिस ने घटना में मामला दर्ज कर आगे की जांच शुरू कर दी है। उनकी टीम ने भी मौके पर जाकर जांच की है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें