गुजरात : किसानों को सता रही है चिंता, अगर जल्द नहीं हुई बारिश तो फसलों को होगा भारी नुकसान

(Photo : IANS)

मौसम विभाग के अनुसार, राज्य में अभी पांच दिन बारिश की कोई खास संभावना नहीं है

राज्य में अब तक 14.63 फीसदी बारिश हुई है जबकि पिछले साल जून में 14.71 फीसदी बारिश हुई थी। वर्तमान में राज्य के 206 जलाशयों में 39 प्रतिशत जलाशय हैं और केवल दो डेमो पूरी तरह से भरे हुए हैं। ये दोनों जलाशय अमरेली जिले में हैं। 65 जलाशयों में 10 प्रतिशत से भी कम पानी है जबकि 118 जलाशयों में 25 फीसदी से भी कम पानी बचा है।
आपको बता दें कि सरदार सरोवर में जल संग्रहण 43 प्रतिशत ही है। पिछले एक महीने में सरदार सरोवर का जलस्तर 9.24 मीटर नीचे आ गया है। वर्तमान में सरदार सरोवर बांध का जलस्तर 113.12 मीटर है। 5 जून 2020 को सरदार सरोवर बांध का जलस्तर 122.36 मीटर था। राज्य के सिर्फ छह जलाशयों में 80 फीसदी से ज्यादा पानी है। उत्तरी गुजरात और कच्छ में 25% से भी कम जल संग्रहण है। मध्य गुजरात में 44% से अधिक पानी है जबकि दक्षिण गुजरात में 40% पानी है। आपको बता दें कि सौराष्ट्र में महज 31% जल संग्रहण है। सबसे कम जल संग्रहण वाले बनासकांठा में सात प्रतिशत, खेड़ा में चार प्रतिशत और देवभूमि द्वारका जिले में 2.54 प्रतिशत ही जल संग्रहण है। पिछले साल 3 जुलाई तक जल संग्रहण 45.67 प्रतिशत था। ऐसे में ज्यादातर इलाकों में बुवाई के बाद बारिश न होने से किसान चिंतित हैं क्योंकि अगर एक सप्ताह में अच्छी बारिश नहीं हुई तो फसल खराब होने का भी खतरा है।
जानकारी के अनुसार, पिछले 30 वर्षों में सबसे अधिक 50 इंच वर्षा 1994 में हुई थी जबकि सबसे कम 18 इंच वर्षा वर्ष 2000 में हुई थी। 2020 में हुई कुल बारिश का 58 प्रतिशत बारिश मात्र अगस्त में ही हुआ था। जबकि 2005, 2006 और 2007 इन लगातार तीन साल में 40 इंच से ज्यादा बारिश हुई। ऐसे में प्रदेश के किसानों के लिए ये एक बुरी खबर है। उन्हें अच्छी बारिश के लिए अभी और इंतजार करना होगा। राज्य में अभी पांच दिन बारिश की कोई खास संभावना नहीं है। मौसम विभाग ने दक्षिण गुजरात में 5, 6 और 7 जुलाई को सामान्य बारिश का अनुमान जताया है। मौसम विभाग के अनुसार 8 और 9 जुलाई को दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र के कुछ जिलों में सामान्य बारिश हो सकती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें