गुजरात : लोकप्रिय गीत 'चार चार बंगाडी वाली गाड़ी' का मामला अदालत में लंबित, फैसला आने तक नहीं गा सकेंगी किंजल दवे

किंजल दवे पर गीत चोरी और कॉपीराईट का आरोप, अदालत ने गाने के इस्तेमाल पर लगाई रोक

आपने गुजराती का वो लोकप्रिय गाना 'चार चार बंगाडी वाली गाड़ी' तो जरुर सुना होगा. गुजराती महफिलों में अलग ही स्थान रखने वाला ये गीत लोकप्रिय गुजराती गायिका किंजल दवे ने गया है पर अब वो अपना ये मशहूर गाना नहीं गा सकेंगी। अहमदाबाद की सिटी सिविल कोर्ट ने संगीत प्रबंधन कंपनी के साथ कॉपीराइट विवाद के कारण किंजल दवे को इस प्रसिद्ध गीत को गाने से प्रतिबंधित कर दिया है। कंपनी गायिका पर कॉपीराइट उल्लंघन का भी आरोप लगा रही है। साथ ही चैंबर्स के जज आनंदलिप तिवारी ने किंजल दवे और दो फर्मों- आरडीसी मीडिया और सरस्वती स्टूडियोज को सीडी और कैसेट पर कॉपीराइट वाले गाने को नहीं बेचने का आदेश दिया।

आरडीसी गुजराती के यूट्यूब चैनल पर अपलोड इस गाने पर लगा ये आरोप


आपको बता दें कि रेड रिबन एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड द्वारा दायर एक कॉपीराइट मामले ने अदालत के फैसला आने तक गाने को लाइव कॉन्सर्ट में बजाए जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। 20 दिसंबर 2016 को यह गाना आरडीसी गुजराती के यूट्यूब चैनल पर अपलोड होने के बाद बहुत लोकप्रिय हो गया। जनवरी 2017 रेड रिबन एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड ने दावा किया कि ऑस्ट्रेलिया के कार्तिक पटेल ने नवंबर 2015 में इस गाने की कल्पना की थी। 29 सितंबर 2016 को उन्होंने काठियावाड़ी किंग्स के यूट्यूब चैनल पर वीडियो अपलोड किया। तो इस कॉपीराइट गाने के मालिक कार्तिक पटेल हैं

गायिका को भेजा गया नोटिस


कथित तौर पर, किंजल दवे ने इस गाने को मामूली बदलावों के साथ कॉपी किया। इस गाने के लिए किंजल दवे को नोटिस भेजा गया था। 23 सितंबर 2022 को मामले की सुनवाई में किंजल दवे कोर्ट के सामने पेश नहीं हुईं. अदालत ने कहा कि कार्तिक पटेल ने पहले काठियावाड़ी किंग्स चैनल पर गाना अपलोड किया था। हालांकि अभी तक मामले पर को फैसला नहीं आया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें