सीबीएसई द्वारा जारी किया गया 11वीं कक्षा के कौशल विषयों का फॉर्मेट

(Photo : IANS)

वर्तमान सत्र से ही किया जाएगा अमल, 12वीं कक्षा के बच्चों के लिए नहीं हुये कोई बदलाव

केंदीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड(सीबीएसई) द्वारा 11वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों के कौशल विषयों के लिए अंक वितरण के फॉर्मेट की घोषणा की गई है। सीबीएसई द्वारा घोषित किए गए इस फॉर्मेट के अनुसार स्कील विषयों के लिए थियरी के 60 अंक और प्रेक्टिकल-प्रोजेक्ट वर्क के 40 अंक का निर्देश दिया है। वर्तमान सत्र 2021-22 से ही इस नए फॉर्मेट को अपनाया जाएगा। हालांकि इस सत्र में 12वीं कक्षा में पढ़ने वेल बच्चों के लिए किसी तरह का कोई बदलाव नहीं किया गया है। 
बता दे की सीनियर सेकंडरी स्तर पर सीबीएसई द्वारा 38 विषयों को कौशल विषयों के तौर पर सीखने का अवसर दिया जाता है। बोर्ड द्वारा कौशल विषयों के अंको की वितरण में एकरूपता लाने के लिए यह नया फॉर्मेट बनाया गया है। इसके अलावा बोर्ड ने यह भी बताया की यदि कोई जो स्कूल ग्यारहवीं कक्षा में कोई नया कौशल करेंगो, उसे वह कोई भी फीस नहीं ली जाएगी। इसके अलावा बोर्ड के नए उपनियमों के अनुसार किसी भी स्कूल को भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान छोडकर किसी भी अतिरिक्त कौशल विषय को शुरू करने के लिए किसी भी आवेदन फॉर्म की जरूरत नहीं होगी। इसका विवरण वह ओएसिस फॉर्म में भर सकेगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें