दिल्ली : देश में पहली बार दो रोबोट्स को अग्निशमन दल में किया गया शामिल

कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर आधारित ये रोबोट तेल टैंक जैसे खतरनाक स्थानों तक पहुंचने में भी सक्षम

आज के तकनीकीकरण के समय में कोई भी क्षेत्र ऐसा नहीं जहाँ रोबोट्स काम करते नजर ना आये। घर से लेकर दुकान और कारखानों से लेकर रेस्ट्रोरेन्ट में सफलतापूर्वक काम करने एक बाद अब रोबोट अग्निशमन दल में काम करते नजर आएंगे। अब दिल्ली फायर सर्विस में आग बुझाने के लिए दो रोबोट्स काम करते नजर आएंगे। इसके अलावा, ये रोबोट्स आपातकालीन क्षणों में आग में फंसे अग्निशामकों और अन्य लोगों की जान बचाने में भी सहायक होंगे। कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर आधारित ये रोबोट तेल टैंक जैसे खतरनाक स्थानों तक पहुंचने में भी सक्षम हैं।
दिल्ली फायर सर्विस के अनुसार, दिल्ली की राज्य सरकार ने फायर यूनिट को दो विशेष रोबोट आवंटित किए हैं। दिल्ली में आग की लगातार घटनाओं के कारण, ये रोबोट अब गंभीर स्थितियों को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। रिमोट कंट्रोल से काम करने वाले ये रोबोट किसी भी विषम अवस्था में आग बुझाने में सक्षम हैं। यह तेल टैंकर और यहां तक कि रासायनिक टैंक में जाने और उस पर आग लगने पर उसे बुझाने में सक्षम है। ऐसे में अब तक ऐसे खतरनाक स्थानों पर फायर फाइटर्स को भेजा जाना बंद किया जा सकेगा जिससे मानवीय जीवन का जोखिम कम हो जाएगा। रोबोट को ऐसे स्थानों पर भेजा जा सकता है। रोबोट उनके चारों ओर 100 मीटर के क्षेत्र को कवर करने में सक्षम होगा।
दिल्ली फायर सर्विस के निदेशक अतुल गर्ग के अनुसार, फायर फाइटर रोबोट भी गंभीर हालत में अग्निशामकों की आग को बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। क्योंकि यह रोबोट बहुत कम जगह में भेजा जा सकता है। यह जलती हुई आग में फायर फाइटर्स के लिए एक रास्ता बनाएगा। रोबोट को सभी स्थानों पर, तहखाने से लेकर जंगल, गोदाम, चेन लेन आदि तक भेजा जा सकता है। दिल्ली फायर सर्विस के निदेशक के अनुसार, इन दोनों रोबोटों को पायलट परियोजना के हिस्से के रूप में शामिल किया गया है। काम करने की उनकी विधि का अध्ययन करने के बाद, अधिक रोबोट अग्निशमन सेवा को शामिल करने की दिशा में कदम उठाएंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें