क्रिकेट : किंग कोहली का भविष्य तय करेगी इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली श्रृंखला? टी20 विश्वकप के पहले विराट का बल्ला चलना बहुत जरुरी

भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली (Photo : IANS)

लम्बे समय से आउट ऑफ़ फॉर्म चल रहे है कोहली, के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में भी वो प्रभावित करने में विफल रहे

भारत के पूर्व कप्तान और महानतम बल्लेबाजों में से एक विराट कोहली पिछले कुछ समय से बल्ले से संघर्ष करते नजर आ रहे हैं। इन दिनों उनका बल्ला उनकी प्रतिभा के अनुरूप नहीं हकाल रहा है। हर कोई उनकी 71 वें शतक का बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रहे है पर हर मैच के साथ प्रशंसकों का इंतजार बढ़ता ही जा रहा है।ऐसे में 33 वर्षीय कोहली के पास भारत के टी20 टीम में अपनी जगह सुनिश्चित करने के लिए ये सीरीज बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होने वाली हैं। 
आपको बता दें कि कोहली लम्बे समय से आउट ऑफ़ फॉर्म चल रहे है और अगर ये सिलसिला जारी रहा तो संभव है कि वो टीम में से अपनी जगह खो देंगे।  दिल्ली में जन्मे इस खिलाड़ी ने 2019 के बाद से कोई शतक नहीं बनाया है और तब से वह तीन अंकों तक पहुंचने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।  कोहली ने कई मौकों पर अच्छी शुरुआत की है, लेकिन वह उन्हें बड़े स्कोर में बदलने में नाकाम रहे। इसके अतिरिक्त, उन्होंने आईपीएल 2022 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) की कप्तानी छोड़ने का विकल्प चुना, जिससे वो बल्लेबाजी पर ध्यान दे सकें पर इसके बावजूद उनका प्रदर्शन खराब ही रहा। कोहली ने आईपीएल में 16 मैचों में 22.73 की औसत और 115.98 के स्ट्राइक रेट से सिर्फ 341 रन बनाए।  इस दौरान उन्होंने मात्र दो अर्द्धशतक बनाएं।
कोहली का बुरा दौर यहीं नहीं रुका। हाल ही में, इंग्लैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में भी वो प्रभावित करने में विफल रहने के बाद, वह छह साल में पहली बार ICC की टेस्ट रैंकिंग के शीर्ष 10 से बाहर हो गए। ऐसे में  इंग्लैंड के खिलाफ आगामी टी20ई और एकदिवसीय श्रृंखला में चयनकर्ताओं  की नजर कोहली के फॉर्म पर रहेगी। भारत के पास टी20ई टीम के मध्य क्रम के लिए ईशान किशन, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा जैसे विकल्प मौजूद है। ऐसे में कोहली का अच्छा प्रदर्शन करना बहुत आवश्यक हो चुका है।
पूर्व भारतीय कप्तान को पहले T20I बनाम इंग्लैंड के लिए आराम दिया गया है, जिसका अर्थ है कि विश्व कप से पहले उनके पास मात्र 5 मैच हैं। यह देखना रोचक रहेगा है कि अब कोहली किस सोच के साथ खेलने उतरेंगे और कब अपने पुराने रंग में वापस आएंगे। इसमें तो कोई दो राय नहीं कि टी 20 विश्व कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में भारत को विराट कोहली जैसे अनुभवी खिलाड़ियों की आवश्यकता रहेगी ही। जो सभी मोर्चों पर योगदान दे सकते हैं, पर अब उनका बल्ला चलना बहुत जरुरी हो चुका है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें