भारत में बच्चों के लिए कोरोना वैक्सीन तैयार, मंजूरी के बाद शुरू हो सकता है टीकाकरण

सूरत में विभिन्न आयु वर्ग के लिए कोरोना वैक्सीन लगाई

गुजरात की वैक्सीन कंपनी जायडस कैडिला का प्ररिक्षण रहा सफल

भारत में 15 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए पहला कोरोना वैक्सीन ZyCoV-D लगभग तैयार है और इसे जल्द ही ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया द्वारा आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूर किए जाने की संभावना है। गुजरात की कंपनी जायडस कैडिला ने देश में सफलतापूर्वक क्लीनिकल ट्रायल पूरा करने के बाद कोरोना वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल के लिए ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया से मंजूरी मांगी है। अगले 8 से 10 दिनों में ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया जायडस कैडिला की कोरोना वैक्सीन ZyCoV-D को आपातकालीन उपयोग के लिए उपयोग करने की अनुमति दे सकता है।
आपको बता दें कि भारत भर में लगभग 30 केंद्रों पर ZyCoV-D के क्लिनिकल परीक्षण किए गए। उनमें से एक केंद्र कर्नाटक के बेलगावी में जीवनरेखा अस्पताल में क्लिनिक परीक्षण का नेतृत्व कर रहे डॉ. अमित भाटे ने बताया कि ZyCoV-D तीन खुराक वाली कोरोना वैक्सीन है। आपको बता दें कि यूएसए, कनाडा, इटली, दुबई,सिंगापोर, पोलैंड, हंगरी, नार्वे, फ़्रांस, जर्मनी और स्विट्जरलैंड जैसे देशों में 15 से 18 साल के बच्चों के लिए टीकाकरण शुरू हो चुका हैं। अगर इस दवा को अनुमति मिल जाती है तो जल्द ही भारत में भी बच्चों का टीकाकरण शुरू हो जायेगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें