कोरोना मृतकों के खिसे से रुपए और मोबाइल चोरी करने वाले चार पकड़ाए

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : Pixabay.com)

मृतकों से चोरी किए रुपए से परिवार के लिए बनवाई थी ज्वैलरी

शहर में पिछले दिनों कोरोना से मर रहे मृतकों के जेब में से चोरी होने की काफी शिकायत आ रही थी। पिछले दिनों राजकोट के यूनिवर्सिटी रोड पर समरस कोविड-19 सेन्टर में से भी ऐसी ही शिकायत आई थी। जिसके चलते पुलिस ने चोरी की गई नकद राशि और मोबाइल चुराने वाले चार आरोपी विक्रम बंसीलाल तेजी, मानाराम उधाराम गारू, महेंद्र भारती तथा भगवान भारती गोस्वामी को हिरासत में लिया था।
(Photo : IANS)
मिली जानकारी के अनुसार, यह चारो चोर यूनिवर्सिटी रोड पर समरस कोविड-19 कोविड केर सेन्टर के गर्ल्स हॉस्टल रूम में रहते थे और कोरोना के कारण जिनकी मौत हो जाती थी। उनके जेब में से नकद और मोबाइल निकाल लेते थे। कुछ लोगों ने पुलिस को मृतदेह के रुपए और मोबाइल चोरी होने की शिकायत की थी। इसके आधार पर पुलिस ने चारो को पकड़ा था। फिलहाल अभी तक कितने लोगों के क्षेत्र से नकद और मोबाइल निकाला गया है, इसकी जानकारी नहीं लग पाई है और इन चोरों को खुद भी नहीं पता है।
पुलिस ने इन चारों आरोपियों से 32,520 नकद, एक मोबाइल तथा परिवारजनों के लिए खरीदी की गई ज्वेलरी जब्त कर ली है। इन्होंने सोने की बाली, चांदी का ब्रेसलेट और चांदी की अंगूठियां बनवाई थी। पुलिस ने चारो को गिरफ्तार करके कोरोना वायरस का टेस्ट करवाया है। जल्दी ही आगे की कार्यवाही भी शुरू की जाएगी। तीनों चोर राजस्थान के रहने वाले है। पुलिस ने तीनों से कड़ी पूछताछ शुरू की थी और कोरोना टेस्ट करवाने के बाद उन्हें हिरासत में लिया जाएगा। 


इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें